डाटा एंट्री ऑपरेटर और चपरासी की मिली भगत लोकायुक्त ने की फ़ैल
डाटा एंट्री ऑपरेटर और चपरासी की मिली भगत लोकायुक्त ने की फ़ैल|Social Media
मध्य प्रदेश

डाटा एंट्री ऑपरेटर और चपरासी की घूसखोरी पर लोकायुक्त ने फेरा पानी

डबरा, ग्वालियर: देशभर में भ्रष्टाचार के खिलाफ लोकायुक्त की कार्रवाई चल रही है इसी के चलते डबरा से रिश्वत लेने का ताजा मामला सामने आया है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। रिश्वतखोरी के बढ़ते मामलों से खराब हो रही पुलिस विभाग की छवि, सुधारने के लिए अब रिश्वतखोरी के तरीकों पर निगरानी रखना शुरू कर दी गयी है। प्रदेश भर में भ्रष्टाचार के खिलाफ लोकायुक्त की कार्रवाई चल रही है इसी के चलते मध्यप्रदेश के डबरा से रिश्वत लेने का ताजा मामला सामने आया है। समूह संचालक की शिकायत पर ग्वालियार लोकायुक्त पुलिस ने जनशिक्षा केंद्र में पदस्थ कम्प्यूटर विभाग में डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं कार्यालय में पदस्थ चपरासी को 3000 के रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है।

यह है मामला :

मिली जानकारी के अनुसार डबरा के देवरा गांव के बजरंग स्वसहायता समूह संचालक के बेटे ब्रजेन्द्र रावत से खाद्यान कूपन के रिकॉर्ड देने के एवज में जन शिक्षा केन्द्र में पदस्थ डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं कार्यालय में पदस्थ चपरासी बीआरसी (धर्मेंद्र पाठक) के नाम पर 3000 की रिश्वत मांग रहे थे।

डाटा एंट्री ऑपरेटर और चपरासी की मिली भगत लोकायुक्त ने की फ़ैल

रिश्वतखोरी से परेशान था समूह संचालक, इसकी शिकायत समूह संचालक बेटे ब्रजेन्द्र रावत ने ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस से की थी। समूह संचालक की शिकायत पर लोकायुक्त पुलिस की टीम ने डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं कार्यालय में पदस्थ चपरासी को 3000 के रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों कार्यालय से गिरफ्तार कर लिया है।

वह जनशिक्षा केंद्र के अधिकारी बीआरसी के लिए रिश्वत के पैसे मांगने का काम करते थे। वहीं पुलिस की टीम ने बीआरसी धर्मेन्द्र पाठक को सूचना के बाद लंबे समय तक इंतजार किया पर उन्होंने अपना मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया।

आरोपियों ने बताया

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co