Raj Express
www.rajexpress.co
सुप्रीम कोर्ट का फैसला
सुप्रीम कोर्ट का फैसला|Social Media
मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश: सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सभी वर्गों ने किया सम्मान

मध्य प्रदेश: अयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय का फैसला आने के बाद आज जिले में पूर्णत: शांति बनी रही तथा आम दिनों की तरह स्थिति सामान्य रही।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। अयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय का फैसला आने के बाद आज जिले में पूर्णत: शांति बनी रही तथा आम दिनों की तरह स्थिति सामान्य रही। यहां सभी ने सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत किया। कलेक्टर उमाशंकर भार्गव तथा एसपी श्रीमती मोनिका शुक्ला सुबह से ही नगर का भ्रमण करते रहे तथा नागरिकों से संवाद भी किया। दोनों अधिकारियों ने जिले के नागरिकों से भविष्य में भी इसी प्रकार परस्पर आपसी सद्भाव, भाईचारा एवं साप्रदायिक सौहार्द बनाए रखने की अपील की।

अयोध्या के राम जन्मभूमि पर आज आये उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले में किसी तरह की कोई अप्रिय स्थिति नहीं बनी। संपूर्ण जिले में शांति व्यवस्था कायम रही। ईदमिलादुन्नबी पर कल निकलने वाले जुलूस को मुस्लिम समाज ने निरस्त कर दिया है। शहर में विभिन्न संवेदनशील स्थानों पर पुलिस का बल लगाया गया है। सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की जा रही है। सोशल मीडिया की भी निरंतर 24 घंटे निगरानी की जा रही है। सीरत कमेटी ने बैठक आयोजित कर कल निकलने वाला ईदमिलादुन्नबी का जुलूस निरस्त करने का फैसला लिया। शहर में शांति व्यवस्था को लेकर परंपरागत तरीके से निकलने वाला जुलूस निरस्त कर दिया है।

इंदौर में कड़ी चौकसी के बीच कानून व्यवस्था कायम रही

आर्थिक राजधानी इंदौर में अयोध्या विवाद पर उच्चतम न्यायालय के बहुप्रतीक्षित फैसला आने के बाद आज कानून-व्यवस्था कायम रही। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजी) वरुण कपूर ने बताया कि, इंदौर एडीजी रेंज में आने वाले समस्त 8 जिलों में किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। उन्होंने कहा कि विभिन्न स्तरों पर एहतियातन पुलिस सतत निगरानी बनाये हुये है।

उन्होंने अतिरिक्त बल की तैनाती पर कहा-

10 नवंबर को तैनाती यथावत रहेगी, जिसके बाद समीक्षा, आंकलन कर निर्णय लिया जायेगा। कलेक्टर लोकेश जाटव ने नागरिकों से अपील करते हुये कहा कि- नागरिक आगामी दिनों में भी आज की तरह कानून व्यवस्था को बनाये रखने में सहयोग करें। उन्होंने यहां सिख समाज के द्वारा शहर में हर वर्ष निकाले जाने वाले पांरपरिक कीर्तन कार्यक्रम को निरस्त किये जाने पर समाज का आभार व्यक्त किया। शहर के प्रमुख चौराहा पर पुलिस रेत के बंकर बनाकर अतिरिक्त चौकसी में डटी रही। शेष जनजीवन सामान्य रहा।

हिन्दू-मुस्लिम धर्मगुरु गले मिले, किया फैसले का स्वागत

अयोध्या पर उच्चतम न्यायालय का आज फैसला आने के बाद मध्यप्रदेश के भिंड में हिन्दू और मुस्लिम धर्मगुरुओं ने गले मिल कर इसका स्वागत करते हुए कौमी एकता की मिसाल पेश की। भिंड के शहर काजी इरफान नबी और वन खंडेश्वर शिव मंदिर के पुजारी राजू शर्मा उच्चतम न्यायालय का फैसला आने के बाद एक दूसरे को बधाई देते हुऐ मंदिर के सामने गले मिले और मिठाई खिलाकर स्वागत किया। बाद में दोनों ने वहां मौजूद अन्य लोगों को आपसी भाईचारा, शांति और सद्भावना कायम रखने का संदेश दिया। यहां मंदिर से कुछ ही दूर एक मस्जिद भी स्थापित है। भिंड में सामान्य दिनों की तरह बाजार और दुकानें खुली नजर आई और लोगों की आवाजाही आम दिनों की तरह देखी गई।

एहतियातन तैनात रहा पुलिस बल, कलेक्टर-एसपी ने वाहनों से लगाई गश्त

देश के सबसे बहुचर्चित अयोध्या मामले का फैसला शनिवार सुबह 11 बजे सामने आया। इसको लेकर कई दिन पूर्व से शासनप्रशासन द्वारा कानून व्यवस्था बरकरार रखने के लिए प्रयास किए जा रहे थे। शनिवार सुबह फैसले का लोगों ने सम्मान किया और बाजारों में आम दिन की तरह चहल-पहल और रौनक नजर आई। लोग अपने रोजमर्रा के कामों में व्यस्त नजर आए। उल्लेखनीय है कि- इस फैसले को लेकर गत दिनों प्रशासन द्वारा धारा 144 लागू की गई थी। साथ ही शनिवार रात्रि से प्रशासनिक अमला अलर्ट पर आ गया था। शनिवार सुबह से प्रमुख चौक-चौराहों और संवेदनशील क्षेत्रों में पुलिस बल तैनात हो गया। जिलेभर में इस तरह का शांति-सौहार्द का वातावरण कायम रहा। हालांकि कई प्रतिष्ठान बंद भी नजर आए।

ग्वालियर में भड़काऊ पोस्ट डालने पर एक गिरफ्तार

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा अयोध्या प्रकरण के फैसले के बाद भी एक व्यक्ति ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सोशल मीडिया पर भडकाऊ पोस्ट डाली जिस पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। थाना प्रभारी बहोडापुर वायएस तोमर को शनिवार को एक स्क्रीनशॉट प्राप्त हुआ जिसमें एक व्यक्ति द्वारा भड़काऊ मैसेज व पोस्ट डाले गये थे। व्यक्ति के स्क्रीनशॉट की जांच करने पर पाया कि यह पोस्ट दिनेश सिंह चौहान, शब्दप्रताप आश्रम ने लोगों को भड़काने के लिए डाली थी।

सूचना मिलते ही तत्काल कार्यवाही करते हुए थाना प्रभारी बहोडापुर ने मय पुलिस बल के साथ दिनेश सिह चौहान पुत्र प्रभु दयाल सिंह चौहान उम्र 27 साल निवासी रामपुरी मौहल्ला, शब्दप्रताप आश्रम को गिरफ्तार कर लिया। तलाशी लेने पर उसकी पेंट की जेब मे एक मोबाइल मिला जिसके द्वारा उस व्यक्ति ने ’’हिन्दू सेना ग्वालियर व्हाट्सएप ग्रुप‘‘ पर भडकाऊ वीडियो व पोस्ट डाला था। उक्त- व्यक्ति के खिलाफ थाना बहोडापुर में धारा 153(ख),188 के तहत प्रकरण पंजीबद्घ कर लिया गया है।

धारा 144 का उल्लंघन करने पर 5 युवक गिरफ्तार

शिवपुरी जिले के खनियाधाना विकासखंड में धारा 144 का उल्लंघन करने पर आज शाम पुलिस ने 5 युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि- जिला दंडाधिकारी अनुग्रह द्वारा शिवपुरी जिले में कानून- व्यवस्था, शांति और सद्भाव बनाये रखने के लिए अयोध्या मामले में फैसला आने के परिपेक्ष्य में धारा 144 लागू की गई थी। खनियाधाना कस्बे में शाम को पांच युवक एकत्रित होकर आतिशबाजी चला रहे थे, जिन्हें रोका गया तो वे नहीं माने। तब पुलिस ने उन्हें निषेधाज्ञा के उल्लंघन में गिरफ्तार कर लिया गया है।

भिंड में नगर निरीक्षक निलंबित

कानून व्यवस्था की ड्यूटी से नदारत रहने पर एक नगर निरीक्षक (टीआई) को आज तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया। पुलिस अधीक्षक रुडोल्फ अल्वारेस ने बताया कि टीआई रेखा पाल की ड्यूटी सुरक्षा व्यवस्था को लेकर लगाई गई थी, लेकिन वह दो दिन से कोई कार्य नहीं कर रही थीं। वह बिना बताए अनुपस्थित हैं। इसलिए उनको निलंबित कर दिया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।