मध्यप्रदेश: उपचुनाव से पहले सीएम ने पुनासा में किया विकासकार्यो का लोकार्पण

मध्यप्रदेश में उपचुनाव को लेकर सियासत जारी। चुनावी सीट पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने किया विकासकार्यो का लोकार्पण। इस दौरान किया बड़ा ऐलान।
मध्यप्रदेश: उपचुनाव से पहले सीएम ने पुनासा में किया विकासकार्यो का लोकार्पण
मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहानSocial Media

मध्यप्रदेश। प्रदेश में आगामी उपचुनाव को लेकर सियासत जारी है। जहां एक तरफ बयानबाजियों का दौर जारी है तो दूसरी तरफ मतदाताओं को अपने पक्ष में लुभाने के लिए राजनैतिक दल लगातार प्रयास कर रहे हैं। इसी क्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज पुनासा (मांधाता), ज़िला खंडवा में विभिन्न विकासकार्यों का लोकार्पण कर जनसभा को संबोधित करते हुए किया बड़ा ऐलान, कहा- मध्यप्रदेश के सरकारी विभागों के रिक्त पदों की भर्ती प्रक्रिया जल्द प्रारंभ की जाएंगी।

जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि पुनासा, मान्धाता क्षेत्र के विकास के लिए नारायण जी ने अपने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया। मैं उनसे वादा करता हूँ कि मैं भी मान्धाता के विकास में कोई कसर नहीं छोडूंगा। मान्धाता में संत सिंगाजी महाराज के समाधिस्थल को धार्मिक पर्यटन स्थल घोषित कर दिया गया है। इसके साथ ही यहाँ अधोसंरचना का भी विकास किया जाएगा।

उन्होंने पूर्व सीएम कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि आज हमने उन बहनों से बात की जिन्होंने असमय अपने पतियों को खोया। संबल योजना के अंतर्गत उन्हें आज अनुग्रह राशि प्रदान की गई है। कमलनाथ जी ने तो यह योजना ही बंद कर दी थी लेकिन हमने इसे पुनः प्रारम्भ कर दिया है। आज संबल योजना के हितग्राही भाई-बहनों के खाते में 80 करोड़ रुपया ट्रांसफर कर आपके बीच आया हूं। यह योजना गरीबों के कल्याण की योजना थी, जिसे बंद करने का पाप कमलनाथ सरकार ने किया, इसे फिर से प्रारम्भ कर हमने गरीबों के साथ न्याय किया है।

सीएम ने कहा कि कमलनाथ ने तो फसल बीमा योजना का प्रीमियम ही नहीं भरा था। हमने अपनी सरकार बनते ही रु. 2,200 करोड़ भरे जिससे किसानों को करीब 3,000 करोड़ रुपये का लाभ मिला। एक करोड़ 29 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदकर मध्यप्रदेश ने पंजाब को भी पीछे छोड़ दिया। कल हमने तय कर दिया, पीएम किसान सम्मान निधि में प्रदेश सरकार की ओर से 4 हजार रुपया और जोड़कर किसान के बैंक खाते में प्रति वर्ष कुल 10 हजार रुपये जमा किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि कमलनाथ के पास यदि जनता की मांग लेकर कोई जनप्रतिनिधि जाता था तो उसे भगा दिया जाता था। अगर कोई नोटों से भरे बैग लेकर जाता था तो उसका स्वागत किया जाता था। वल्लभ भवन को दलालों के अड्डा बना दिया गया था।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संबोधन के दौरान बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि शीघ्र ही पुलिस विभाग, शिक्षा और स्वास्थ्य विभाग में भर्तियां प्रारम्भ करने की प्रक्रिया प्रारम्भ की जायेगी। उन्होंने कहा- मेरे स्ट्रीट वेंडर भाइयों-बहनों, आपका काम धंधा चले और आपकी जिंदगी की गाड़ी चलती रहे, इसके लिए 10 हजार रुपये कार्यशील पूंजी के रूप में दिये जायेंगे। इस लोन की गारंटी हम लेंगे और ब्याज भी सरकार भरेगी। पोषण आहार अब बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियों में नहीं बनाये जायेंगे, बल्कि अब हमारी स्वसहायता समूह की बहनें ही बनायेंगी। मेरी यह कोशिश है कि मेरी हर बहन की आमदनी कम से कम दस हजार रुपया प्रतिमाह हो जाये।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co