मध्यप्रदेश उपचुनाव: शिव और नाथ जीत हासिल करने के लिए पहुंचे भगवान की शरण

मध्यप्रदेश 28 सीटों उपचुनाव में जीत हासिल करने के लिए सीएम शिवराज और कमलनाथ पहुंचे भगवान की शरण। नाथ पहुंचे गुफा मंदिर तो शिव ने घर पर की पूजा।
मध्यप्रदेश उपचुनाव: शिव और नाथ जीत हासिल करने के लिए पहुंचे भगवान की शरण
मध्यप्रदेश उपचुनाव Social Media

मध्यप्रदेश। प्रदेश की 28 सीटों पर विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान शुरू हो चुके हैं। अब मतदाताओं के हाथ में प्रदेश की कमान है कि वो किसकी सरकार बनाते हैं। उपचुनाव में 28 सीटों पर जीत हासिल करने और अपनी सरकार बनाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ भगवान की शरण में पहुंच गए हैं। जहां एक तरफ नाथ भोपाल के गुफा मंदिर पहुंचे तो शिव ने घर पर की पूजा। सीएम शिवराज ने सभी सीटें जीतने का दावा किया तो कमलनाथ बोले- मैं शिवराज की तरह दावा नही करूंगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मतदान लोकतंत्र की आत्मा है, मतदान करने से ही लोकतंत्र मजबूत होता है। सभी मतदाताओं से निवेदन करता हूं कि निष्पक्षता और निडरता के साथ मतदान करें और सभी मतदाताओं की गाइडलाइंस का पालन करते हुए अधिक से अधिक संख्या में वोट डालें। उन्होंने कहा- कमलनाथ सरकार ने प्रदेश को दलालों का अड्डा बना दिया गया था। हमारी सारी जनहितैषी योजनाओं को बंद कर दिया था। एक वचन और वादा पूरा नहीं किया। इसलिए जनता कांग्रेस को सबक सिखाएगी।

वहीं मप्र के पूर्व सीएम और पीसीसी चीफ कमलनाथ ने गुफा मंदिर में पूजा-अर्चना करने से पहले कहा कि प्रदेश की जनता गरीब हो सकती है लेकिन मूर्ख नहीं हो सकती है। उन्हें अपना भविष्य पता हैं और वह इसी तरह से वोट करेंगे। 28 सीटें जीतने के दावे पर कहा कि मैं शिवराज नहीं हूं, मैं कोई दावा नहीं करता हूं। नाथ ने कहा कि भाजपा को यह एहसास हो गया है कि वो हार नहीं रहे बल्कि बुरी तरह पिट रहे हैं। इसलिए भाजपा शराब, पैसा, पुलिस और प्रशासन के जरिए जीतने का प्रयास कर रही हैं। लेकिन मतदाता इसे स्वीकार नहीं करेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co