मप्र पीसीसी चीफ कमलनाथ और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
मप्र पीसीसी चीफ कमलनाथ और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान|Social Media
मध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश:CM शिवराज कोरोना को कभी सत्ता बचाने का हथियार बताते थे-कमलनाथ

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कोरोना संक्रमित होने पर पूर्व सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर तंज कसा, कहा- आप कोरोना को कभी सत्ता बचाने का हथियार बताते थे।

Aditya Shrivastava

मध्यप्रदेश। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से विपक्ष ने तंज कसना शुरू कर दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ कमलनाथ ने ट्वीट कर सीएम शिवराज के शीघ्र स्वस्थ की कामना के साथ ही तंज कसते हुए कहा- जब हम कोरोना को लेकर गंभीर थे। तब आप कोरोना को कभी नाटक बताते थे, कभी डरोना बताते थे, कभी सत्ता बचाने का हथियार बताते थे।

कमलनाथ ने कहा- शिवराज जी, आपके कोरोना संक्रमित होने की जानकारी मिलने पर काफ़ी दुःख हुआ। ईश्वर से आपके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ। बस अफ़सोस इस बात का है कि जब हम कोरोना को लेकर गंभीर थे। तब आप कोरोना को कभी नाटक बताते थे, कभी डरोना बताते थे, कभी सत्ता बचाने का हथियार बताते थे। उन्होंने कहा कि कभी हम पर कुछ आरोप लगाते थे, कभी कुछ कहते थे, कभी कुछ। हम शुरू से कहते थे कि यह एक गंभीर बीमारी है। इससे संभलकर रहने की आवश्यकता है। सावधान रहने की आवश्यकता है। इसके प्रोटोकाल के पालन की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा- शायद आप भी इससे संभल कर रहते प्रोटोकाल, गाइडलाइन व सावधानी का पूरा पालन करते, इसको मज़ाक़ में नहीं लेते तो शायद आप इससे आज बचे रहते। पीसीसी चीफ बोले- ख़ैर कोई बात नहीं। आप जल्द स्वस्थ होकर वापस काम पर लौटेंगे ऐसी ईश्वर से प्रार्थना है व पूर्ण विश्वास है।

वहीं, कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा- मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोंना पॉज़िटिव हो गए है। यह बेहद चिंताजनक है। अगर मुखिया कोरोना पॉज़िटिव हो जाएगा तो प्रदेश की व्यवस्था ठप्प हो जाएगी। ईश्वर से प्रार्थना है कि वे जल्दी स्वस्थ हो।

उन्होंने कहा- कोरोना का क़हर चरम पर है। कोरोना से लड़ाई आज मध्यप्रदेश की प्राथमिकता है। अतः मध्य प्रदेश के किसी वरिष्ठ मंत्री को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के स्वस्थ होने तक मुख्यमंत्री का कार्यभार देना चाहिए। जिससे कोरोंना की लड़ाई व शासन प्रशासन सुचारु रूप से चलता रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co