Raj Express
www.rajexpress.co
चेहल्लुम का मुख्य कार्यक्रम
चेहल्लुम का मुख्य कार्यक्रम|Nilesh Dhariwal
मध्य प्रदेश

रतलाम: चेहल्लुम के इतिहास में इस बार आए सबसे कम जायरीन

जावरा : हुसैन टेकरी शरीफ पर चेहल्लुम का मुख्य कार्यक्रम आग पर मातम चुल 18 अक्टुबर, रात्रि 9 बजे होगा। लेकिन इस बार काफी कम जायरिन अभी तक टेकरी प्रांगण पहुंचे हैं।

Nilesh Dhariwal

राज एक्सप्रेस। हुसैन टेकरी शरीफ पर चेहल्लुम का मुख्य कार्यक्रम आग पर मातम चुल 18 अक्टूबर शुक्रवार रात्रि 9 बजे होगा। लेकिन इस बार काफी कम जायरिन अभी तक टेकरी प्रांगण पहुंचे है। टेकरी प्रशासन की अव्यवस्थाओं के चलते अब तक के चैहल्लुम के इतिहास में सबसे कम जायरिन इस वर्ष आने की चर्चा टेकरी परिसर में दिनभर चलती रही। हालांकि आज का दिन और शेष है लेकिन फिर भी बीते सालों के मुकाबले इस वर्ष आधे से भी कम जायरिनों के ही आने की बात टेकरी क्षेत्र के जानकार कह रह हैं।

यह कार्यक्रम हजरत इमाम हुसैन र.अ. का 135 वां कार्यक्रम है। बता दें कि, खंदक (चुल) पर सबसे पहले 21 आलम हाथ में लेकर सिया समुदाय के दूल्हे निकलते हैं। समीप ही दूसरी चुल पर भी यही स्थिति रहती है। लेकिन इस बार तीन चुल होने के चलते प्रत्येक चुल पर 14-14 दूल्हे यानि कुल 42 दूल्हे ही निकलेंगे। लक्की ड्रा के माध्यम से इनका चयन होता है। यह कार्यक्रम रात 10 बजे तक चलता है, इसके बाद पहले पुरूष व बाद में महिलाएं नंगे पैर चुल पर से निकलते हैं। बाद में सिया समुदाय द्वारा खंदक को दूध का छींटा दिया जाता है।