लॉकडाऊन तो किसके लिए खुली हैं शराब दुकानें?
लॉकडाऊन तो किसके लिए खुली हैं शराब दुकानें?|Social Media
मध्य प्रदेश

नैनपुर, पिण्डरई हैं लॉकडाऊन तो किसके लिए खुली हैं शराब दुकानें?

मध्यप्रदेश के मंडला जिले के पिण्डरई में कोरोना पॉजिटिव का मरीज मिलने के बाद से नैनपुर और पिण्डरई पूर्णत: लॉकडाऊन है फिर नैनपुर में खुली है शराब दुकानें।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के मंडला जिले के पिण्डरई में कोरोना पॉजिटिव का मरीज मिला है उसके बाद से नैनपुर और पिण्डरई पूर्णत: लॉकडाऊन है फिर किसके लिए नैनपुर समूह के अंतर्गत ये दुकानें खुली हुई हैं। जबकि नगर पालिका अध्यक्ष की अपील और क्षेत्र के व्यापारियों के द्वारा निर्णय लिया गया है कि दुकानें बंद रहेगी। ये निर्णय इसलिए लिया गया था क्योंकि जो मरीज पिण्डरई में मिला है नैनपुर भी गया था। किसके सम्पर्क में आया और कहॉ-कहॉ गया इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। एक भी व्यक्ति के सम्पर्क में पॉजिटिव मरीज आया होगा तो निश्चित क्षेत्र में कोरोना वॉयरस के संक्रमण की चैन बन सकती है इसलिए पिण्डरई और नैनपुर के लोगों ने निर्णय लिया कि पूर्णत: दुकानें बंद रहेंगी और लोग अपने घरों में रहेंगे एवं लॉकडाऊन का पालन करेंगे। फिर ये शराब दुकानें क्यों खोल रखी हैं?

सरकार ने शराब बंद के दिए आदेश

इसके पहले भी जब देश के प्रधानमंत्री ने लॉकडाऊन का ऐलान किया था तब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शराब बंद करने के आदेश दिए थे उस दौरान नैनपुर समूह के ठेकेदार द्वारा अवैध शराब का विक्रय जमकर किया गया था। मौंके का फायदा उठाकर शराब को दुगने और तीन गुने दामों में बेचकर मुनाफा कमाया था।

गांव-गांव खोल रखी हैं अघोषित दुकानें

सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि नैनपुर समूह द्वारा गांव-गांव अघोषित देशी-विदेशी शराब की दुकानें खुलवा दी हैं। यहॉ तक कि किराने की दुकानों में गुप-चुप तरीके से शराब बिकवाई जा रही है। क्षेत्र में शराब का अवैध कारोबार कुचियों के माध्यम से कराया जा रहा है। ठेकेदार का मैनेजर सुबह से रात तक शराब की अघोषित दुकानों और कुचियों में शराब पहुंंचा रहा है। जानकारी मिली है कि नैनपुर, बम्हनी, कान्हा किसली, चिरइड़ोगरी, पिण्डरई, डिढौरी, भड़िया, इन्द्री, जामगॉव, चीचगांव, मक्के, इटका, गोंझी, समनापुर जैसे और भी ऐसे अनेक क्षेत्र हैं जहाँ पर आसानी के साथ ग्रामीणों के बीच एवं संम्बधित क्षेत्र में ठेकेदारों के द्वारा शराब पहुंचाई जा रही है।

आखिर किसके संरक्षण में नैनपुर समूह के हौसलें बुलंद

नैनपुर समूह के द्वारा जो क्षेत्र में अवैध शराब के कारोबार को अंजाम दिया जा रहा है आखिर किसका संरक्षण उसे प्राप्त है, जिसके कारण उक्त समूह का हौसला बुलंद है? क्या नैनपुर समूह के सामने प्रशासन या संबंधित विभाग नत्मस्तक हो गया है। ठेकेदार बेहिसाब गांव-गांव अघोषित दुकानें खोलकर शराब सप्लाई कर रहा है वहीं किराना दुकानों को भी शराब दुकानों में तब्दील कर दिया है। क्या इस ठेकेदार के सामने नियम कायदें कानून ढेर हो गए हैं?

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co