Raj Express
www.rajexpress.co
कमलनाथ का  दौरा
कमलनाथ का दौरा|Sudha Choubey - RE
मध्य प्रदेश

मंदसौर और नीमच जिलों में कमलनाथ का दौरा

मंदसौर, नीमच मध्यप्रदेश: अतिवृष्टि और बाढ़ से बर्बाद हुए मंदसौर और नीमच जिलों में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ आज दौरा कर रहे हैं।

Shailendra Singh Rathore

हाइलाइट्स:

  • बाढ़ से बर्बाद हुए मंदसौर और नीमच जिलों में कमलनाथ का दौरा

  • बाढ़ से हुए नुकसान का मुआयना

  • 15 अक्टूबर तक हर प्रभावित को दे दी जाएगी मदद

  • नुकसान हुए सड़कें, पुल-पुलिया, शासकीय भवन पर तत्काल काम शुरू

राज एक्सप्रेस। अतिवृष्टि और बाढ़ से बर्बाद हुए मंदसौर और नीमच जिलों में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ आज दौरा कर रहे हैं। इस दौरान मंदसौर आने पर हेलिपेड पर उनका स्वागत किया। उसके बाद वह मंदसौर जिले की सुवासरा तहसील के गांव पायाखेड़ी में बाढ़ पीड़ित परिवारों से मिलने गए तथा बाढ़ पीड़ित परिवारों को इस दुःखद घड़ी में सहायता का आश्वासन दिया एवं सभी परिवारों को सांत्वना भी प्रदान किया गया।

मुख्यमंत्री कमल नाथ का कहना :

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा है कि, 15 अक्टूबर तक सभी बाढ़ प्रभावितों को मुआवजा वितरित कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि, मुआवजे के लिए पहले के सामान भटकना नहीं पड़ेगा बल्कि सरकार पीड़ितों के पास सरकार जाएगी, उन्हें सरकार के पास नहीं जाना पड़ेगा। श्री नाथ आज अतिवृष्टि से सर्वाधिक प्रभावित नीमच जिले के ग्राम रामपुरा में बाढ़ राहत शिविर में बाढ़ प्रभावितों से चर्चा कर रहे थे।

15 अक्टूबर तक प्रभावितों को दी जाएगी मदद:

मुख्यमंत्री ने कहा कि, मालवा, निमाड़, नीमच, मंदसौर क्षेत्र में इस बार सर्वाधिक बारिश हुई है। इससे जो नुकसान हुआ है, वह भी बड़ा है। हम इसका आंकलन कर रहे हैं, लेकिन सरकार केन्द्र की मदद का इंतजार किए बिना राहत देने का काम 22 सितम्बर से शुरू कर दिया है और अगले 15 अक्टूबर तक हर प्रभावितों को मदद दे दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि, सरकार आपके साथ है, आपके दु:ख दर्द पीड़ा और समस्या के साथ साझी है। उन्होंने बताया कि, बाढ़ की वीभिषिका के दौरान वे हर घंटे की स्थिति की जानकारी ले रहे थे और जिला प्रशासन से निरंतर संपर्क में थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, पीड़ितों को मुआवजा देने के साथ ही सड़कें, पुल-पुलिया, शासकीय भवन और पीने के पानी सहित अन्य जो नुकसान हुआ है, उसके भी सुधार का काम तत्काल शुरु किया जाएगा। श्री नाथ ने कहा कि, व्यापारी और किसान की फसलों के नुकसान की भी पूरी भरपाई सरकार करेगी। श्री नाथ ने संकट के समय में स्थानीय नागरिकों, स्वयंसेवी संस्थाओं और कांग्रेस कार्यकर्ताओं जिन्होंने पीड़ितों की मदद की और उन्हें राहत पहुँचाने का काम किया उसकी उन्होंने सराहना की।

आवास मंत्री श्री जयवर्धन सिंह का कहना:

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्धन सिंह ने कहा कि, मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रभावितों की मदद के लिए कदम उठाए गए हैं। उन्होंने बताया कि, जिन परिवारों के मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं, उसके लिए भानपुरा पंचायत से सात करोड़ रुपए दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि, मुख्यमंत्री आवास मिशन ने रामपुरा गाँव में जिनके भी घर पूरी तरह क्षतिग्रस्त हुए उन्हें ढाई लाख रुपये सरकार देगी। सभी रहवासियों को शुद्ध पानी मिले, हर घर में नल से पानी पहुँचे इसके लिए उन्होंने पाँच करोड़ रुपये उपलब्ध कराये गए हैं। श्री सिंह ने कहा कि, बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए सरकार कोई भी कसर बाकी नहीं रखेगी।

मुख्यमंत्री ने दी शहजाद मंसूरी के परिवार को 4 लाख की आर्थिक सहायता
मुख्यमंत्री ने दी शहजाद मंसूरी के परिवार को 4 लाख की आर्थिक सहायता
Sudha Choubey - RE

मुख्यमंत्री ने दी शहजाद मंसूरी के परिवार को 4 लाख की आर्थिक सहायता :

मंत्री कमलनाथ ने इस दौरान बाढ़ पीड़ितों को बचाने में अपने प्राण गंवाने वाले शहजाद मंसूरी के परिवार को 4 लाख की आर्थिक सहायता चेक के माध्यम से प्रदान की। परिवार को सांत्वना प्रदान करते हुए उन्होंने कहा कि, सरकार आपके साथ हैं। आपके परिवार को सरकार की तरफ से हर तरह की मदद की जाएगी। गांव में पहुंचकर फसलों एवं बाढ़ प्रभावितों के मकानों का जायजा लिया। साथ ही किसानों से चर्चा भी की। किसानों से बात करते हुए मुआवजा व राहत राशि प्रदान करने की बात कही गई। किसानों से चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि, राज्य सरकार किसानों की इस तकलीफ को समझ रही है।