मजदूरों के लिए की गई व्यवस्था
मजदूरों के लिए की गई व्यवस्था |Social Media
मध्य प्रदेश

मजदूरों का सहारा देने आगे आए कई हाथ, डीआईजी ने दिए निर्देश

मध्यप्रदेश में कोरोना संकट के बीच प्रवासी मजदूरों के लिए उत्तम व्यवस्था को मुस्तैद प्रशासन, मिसरोद समर्दा से गुजरते बेसहारा मजदूरों के लिए की कई व्यवस्थाएं।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। कोरोना से पनपे महासंकट काल के बीच जहा संक्रमित मामलों से चिंताजनक स्थिति बनी हुई है, वहीं आम जनता की समस्याओं के मद्देनजर भी सरकार द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं, कोरोना संक्रमण से प्रभावित प्रवासी मजदूरों के लिए को डीआईजी भोपाल इरशाद वली द्वारा समर्दा आउटर चेकिंग प्वाइंट के भ्रमण के दौरान पैदल भूखे प्यासे बेसहारा मजदूरों को जाते हुए देखा, तभी डीआईजी इरशाद वली द्वारा वहां मौके पर उपस्थित हुए।

एसडीओपी मिसरोद को किया निर्देशित-

उक्त मजदूरों के निकलते समय छाया के लिए टेंट, खाना एवं पानी की व्यवस्था की जाए तथा पैदल राहगीरों को जूते-चप्पल की व्यवस्था की जाए, जिस पर एसडीओपी अनिल त्रिपाठी द्वारा पुलिस अधीक्षक दक्षिण साईं कृष्णा से मार्गदर्शन प्राप्त कर नगर निगम कमिश्नर श्री विजय दत्ता को उक्त समस्याओं से अवगत कराया गया, जिस पर नगर निगम कमिश्नर विजय दत्ता द्वारा राहगीर मजदूरों के लिए समर्दा चेकिंग प्वाइंट के पास छाया के लिए टेंट लगवाया गया तथा उनके भोजन के लिए नगर निगम द्वारा खाने की व्यवस्था की गई।

मजदूरों के पीने के पानी के लिए फरहान आजम द्वारा 2500 पानी के पाउच 250 पानी की बोतल उपलब्ध कराई गईं तथा नंगे पैर चलने वाले मजदूरों के लिए जूते-चप्पल की व्यवस्था टीआई हनुमानगंज महेंद्र ठाकुर द्वारा 500 जोड़ी जूते चप्पल तथा असनानी बिल्डर श्री दीपेश असनानी द्वारा 500 जोड़ी जूते-चप्पल तथा 400 जोड़ी जूते चप्पल समीर समरबाल बिल्डर एसोसिएशन द्वारा उपलब्ध कराए गए। इस प्रकार 1400 जोड़ी जूते चप्पल निकलने वाले गरीब मजदूर राहगीरों को उपलब्ध कराए गए। मिसरोद एसडीओपी द्वारा डीआईजी इरशाद वली के निर्देशन में गरीब राहगीर मजदूरों की व्यवस्था के लिए क्षेत्र के लोगों ने पुलिस की एक आवाज पर खुलकर मदद की।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co