भोपाल : चिकित्सा शिक्षकों को भी मिलेगी चाइल्ड केयर लीव
मध्यप्रदेश मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन के सदस्यगण ने विश्वास सारंग से भेंट कीSocial Media

भोपाल : चिकित्सा शिक्षकों को भी मिलेगी चाइल्ड केयर लीव

भोपाल, मध्यप्रदेश : मंत्री विश्वास सारंग से मिले मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी। चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने दिया मांगों को जल्द पूरा करने का आश्वासन।

भोपाल, मध्यप्रदेश। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग से गुरुवार को मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने अपनी मांगों को लेकर बैठक की। मंत्री श्री सारंग ने चिकित्सा शिक्षकों को चाइल्ड केयर लीव, अध्ययन अवकाश, मुख्यमंत्री की घोषणा अनुसार जल्दी ही सातवें पे कमीशन का एरियर प्रदाय, वेतन विसंगति दूर करने, आयुष्मान योजना का मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों को लाभ मिलने, समयमान वेतनमान का लाभ, सातवें वेतनमान में आठ साल में सहायक प्राध्यापक से एसोसिएट प्रोफेसर बनाने आदि मांगों को जल्दी ही पूरा करने का आश्वासन दिया।

मंत्री श्री सारंग ने कहा कि विभाग के अपर मुख्य सचिव और वित्त विभाग के अधिकारियों के साथ जल्दी ही एक बैठक कर इन मांगों की पूर्ति में आने वाली वित्तीय कठिनाइयों को दूर कर लिया जाएगा। चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने कहा कि विभागीय समस्याओं को वह हरसंभव दूर करने का प्रयास करेंगे।

दो दिवसीय मंथन के बाद बनेगा पांच साल का रोडमैप :

चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सारंग ने बताया कि प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों को उपचार के साथ शिक्षा और शोध में भी उच्च स्तर पर अद्यतन करने के लिए जनवरी के अंतिम या फरवरी के प्रथम सप्ताह में दो दिवसीय मंथन किया जाएगा। अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा से लेकर वॉर्ड बॉय तक के प्रतिनिधित्व वाले इस मंथन में तकरीबन 10-12 ग्रुप होंगे। हर स्तर पर मंथन के बाद जो परिणाम होंगे, उनके आधार पर अगले पांच सालों का रोडमैप तैयार किया जाएगा। श्री सारंग ने कहा कि अभी हमारे मेडिकल कॉलेज 70 प्रतिशत उपचार पर केंद्रित हैं, जिन्हें वृहद रूप से शिक्षा और शोध पर केंद्रित होना चाहिए। इससे राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उच्च स्तरीय डॉक्टर्स प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा मेडिकल कॉलेज सशक्त होंगे तो उनसे जुड़े अस्पताल स्वत: ही अपग्रेड हो जाएंगे।

रिक्त पदों पर नर्सों की भर्ती जल्द :

चिकित्सा शिक्षा मंत्री इस माह के अंतिम सप्ताह में प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेजों का दो-दो दिन निरीक्षण करेंगे। श्री सारंग ने बताया कि प्रदेश में अगले तीन माह में रिक्त पदों पर नर्सों की भर्ती कर दी जाएगी।

विभाग की जगह अब शासन करेगा सम्मेलन :

मंत्री श्री सारंग ने बताया कि चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में किए जा रहे अब तक के सम्मेलन विभिन्न एसोसिएशन, प्रभाग या चैप्टर द्वारा किए जा रहे थे, जो अब शासन द्वारा किए जाएंगे। इनसे एसोसिएशन आर्थिक बोझ से मुक्त होगा और प्रदेश के चिकित्सक विश्व की आधुनिकतम चिकित्सा उपलब्धियों से अद्यतन होते रहेंगे। बैठक में एसोसिएशन पदाधिकारी सेंट्रल मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन मप्र के अध्यक्ष डॉ. सुनील अग्रवाल, सचिव डॉ. राकेश मालवीय, डॉ. संजीव गौर, डॉ. पूनम माथुर, डॉ रिनी मलिक, डॉ लोकेंद्र दवे, डॉ. मनीष निगम, डॉ. परमहंस, डॉक्टर डॉ. मनु राजपूत, डॉ. त्रिभुवन, डॉ. अखिलेश, डॉ. गोहीया और डॉ. अशोक ठाकुर ने भाग लिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co