Raj Express
www.rajexpress.co
अवैध रेत उत्खनन करते, विभाग ने जब्त की 4 ट्रैक्टर ट्राली
अवैध रेत उत्खनन करते, विभाग ने जब्त की 4 ट्रैक्टर ट्राली|Sudha Choubey - RE
मध्य प्रदेश

उमरिया: अवैध रेत उत्खनन करते, विभाग ने जब्त की 4 ट्रैक्टर ट्राली

चंदिया, उमरिया : उमरार नदी के झालाघाट से रेत का अवैध उत्खनन करते खनिज विभाग ने 4 ट्रैक्टर ट्राली को मौके पर जब्त किया गया। अवैध खनन करने वालों पर नवीन रेत नियम 2019 के तहत कार्यवाही की जाएगी।

Afsar Khan

हाइलाइट्स:

  • अवैध रेत उत्खनन के 04 ट्रैक्टर ट्रॉली जब्त।

  • पुलिस विभाग, राजस्व एवं वन विभाग का सहयोग प्राप्त।

  • अवैध खनन करने वालों पर नवीन रेत नियम 2019 के तहत कड़ी से कड़ी कार्यवाही।

राज एक्सप्रेस। जिले की चंदिया तहसील अंतर्गत उमरार नदी के झालाघाट से रेत का अवैध उत्खनन करते खनिज विभाग ने 04 ट्रैक्टर ट्राली को मौके से जब्त किया है। कलेक्टर सर्वोचित सोमवंशी के निर्देश पर जिला खनिज अधिकारी श्रीमान सिंह बघेल एवं खनिज निरीक्षक देवेंद्र चतुव्रेदी ने मौके से वाहनों को जब्त किया है। गौरतलब है कि, उक्त झालाघाट उमरिया व कटनी जिले की सीमा में है, जंहा से आए दिन रेत का अवैध खनन होती है, अवैध रेत खनन और परिवहन की शिकायत बीते कई महीनों से प्रशासन को शिकायतें मिल रही थी। जिस कलेक्टर ने खनिज विभाग की टीम भेजकर अवैध रेत कारोबारियों पर नकेल कसने का प्रयास किया है।

कार्रवाई से बचने, सीमा कर जाते है पार :

उक्त घाट कटनी जिले की सीमा होने से अवैध खनन करने वाले इसका जमकर फायदा उठाते है। जैसे ही खनिज विभाग की टीम मौके पर पहुंचती है, वैसे रेत खनन व परिवहन में लगे, लोग वाहन लेकर जिले सीमा पार कर दूसरी ओर भाग जाते हैं। बीते दिवस खनिज विभाग द्वारा आकस्मिक दबिश दिया गया, खनिज अमले को देख ट्रैक्टर चालक इंजन को लेकर मौके से फरार हो गया। रेत से लोड ट्रालियों खनिज विभाग जब्त कर चंदिया पुलिस के हवाले किया है।

इनका रहा सहयोग :

मौके पर पहुंचे अमले ने वन विभाग और स्थानीय थाने से भी मदद ली है। वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया, जिसके बाद वरिष्ट अधिकारियों के सामंजस्य से पुलिस विभाग, राजस्व एवं वन विभाग का सहयोग प्राप्त हुआ। जब्त ट्रालियों को थाने तक ले जाने में क्रेशर संचालक अनुपम चतुर्वेदी एवं पीयूष शुक्ला का विशेष सहयोग रहा।

जुटाई जा रही ट्राली-मालिकों की जानकारी :

विभाग द्वारा ट्रालियों को जप्ती ट्राली-मालिकों की जानकारी जुटाई जा रही है, जिसके आधार पर अवैध खनन करने वालों पर नवीन रेत नियम 2019 के तहत कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जा सके एवं राजसात हेतु प्रस्तावित करने की बात कही जा रही है।