OBC आरक्षण के मुद्दे पर मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कांग्रेस को जमकर घेरा, कही ये बात
मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कांग्रेस को जमकर घेराSocial Media

OBC आरक्षण के मुद्दे पर मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कांग्रेस को जमकर घेरा, कही ये बात

भोपाल, मध्यप्रदेश : कांग्रेस को घेरे हुए मध्यप्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि, पंचायत चुनाव में ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर विपक्ष को बोलने का अधिकार नहीं हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज शिवराज सरकार के वरिष्ठ मंत्री भूपेन्द्र सिंह (Bhupendra Singh) का बयान सामने आया है। मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बयान देते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है, मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने ट्वीट कर कहा- पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) आरक्षण के मुद्दे पर विपक्ष को बोलने का अधिकार नहीं है।

मंत्री भूपेंद्र सिंह का सामने आया बयान :

पिछड़ा वर्ग आरक्षण के मुद्दे पर कांग्रेस (Congress) को घेरे हुए नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि, पंचायत चुनावों में ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर विपक्ष को बोलने का कोई अधिकार ही नहीं है। विपक्ष के कारण ही प्रदेश में चुनाव को लेकर ऐसी परिस्थितियां बनी है। मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि, जब मध्यप्रदेश में चुनाव 27 फीसद आरक्षण के साथ हो रहे थे और लोगों ने नामांकन पत्र भी जमा कर दिए थे, तो कांग्रेस पार्टी हाइकोर्ट एवं सुप्रीम कोर्ट क्यों गयी। जब कांग्रेस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव पर रोक लगाई, तो कांग्रेस पार्टी ही इसके लिए पूरी तरह से दोषी है। नहीं तो प्रदेश में चुनाव दो वर्ष पहले हो जाते।

मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बयान देते हुए कही ये बात :

आगे मध्यप्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बयान देते हुए कहा कि, हम लोग तो चाहते थे कि समय से चुनाव हो। 2019 में चुनाव होने थे, उस समय कांग्रेस की सरकार थी, उस समय चुनाव क्यों नहीं कराया? 2019 में पंचायत के तोड़-फोड़ में लगे रहे, और समय पर चुनाव नहीं कराया। हमारी सरकार आने के बाद, कोरोना के होते हुए भी, समय पर सारी प्रक्रिया और तैयारी कर, चुनाव आयोग को रिपोर्ट भेज दी थी, उसी आधार पर आयोग ने तारीखों की घोषणा भी कर दी। कांग्रेस यदि हाइकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट नहीं गयी होती, तो चुनाव उसी समय हो जाता।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.