शराब पर राजनीति: शराब ठेकेदारों के विरोध पर बोले मंत्री मिश्रा
गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा का बयानSyed Dabeer Hussain - RE

शराब पर राजनीति: शराब ठेकेदारों के विरोध पर बोले मंत्री मिश्रा

मध्य प्रदेश में बढ़ते कोरोना संकट के बीच शराब की दुकानें खोलने के सरकार के फैसले पर शराब ठेकेदारों के विरोध के बाद मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बयान आया सामने।

राज एक्सप्रेस। मध्य प्रदेश में कोरोना के बढ़ते प्रभाव और लॉक डाउन के तीसरे दौर के बीच सरकार ने रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन के जिलों में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए जहां रियायत देकर मध्यप्रदेश सरकार ने शराब की दुकानें खोलने के आदेश भी जारी कर दिए वहीं इसके संबंध में शराब ठेकेदारों ने विरोध शुरू किया है अब इस मामले में प्रदेश के गृह और स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बयान जारी करते हुए सरकार के निर्णय का पालन करने की बात कही है।

शराब ठेकेदारों के विरोध मामले में बोले नरोत्तम

इस सम्बन्ध में, प्रदेश के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा का बयान जारी करते हुए कहा कि, सरकार कोई निर्णय लेती है तो उन्हें सरकार के निर्णय का पालन करना चाहिए कोई दिक्कत है तो सरकार के पास आना चाहिए-हमारे द्वार खुले है। इसके अलावा कहा कि, ठेकेदारों की तानाशाही बर्दाश्त नहीं होगी, यह सरकार तय करेगी कब दुकान खोलना है कब नहीं- ठेकेदार नहीं। साथ ही बताया कि सरकार द्वारा शराब की दुकानें नहीं खोलने के अलावा शराब बिक्री को लेकर अन्य विकल्पों को तलाशा जा रहा है।

सरकार के फैसले पर शराब ठेकेदारों ने दी थी उलट प्रतिक्रिया

प्रदेश में एक ओर जहां सरकार आगामी 5 मई से संक्रमण क्षेत्रों को छोड़कर अन्य क्षेत्रों में शराब की दुकानें खोलने की तैयारी कर रही है, वहीं शराब ठेकेदारों ने इस फैसले पर आपत्ति जताते हुए कहा कि, रेड जोन में बनने वाली शराब की वजह से ग्रीन जोन में भी संक्रमण फ़ैल सकता है, शराब की दुकानें खोलने के लिए आदेश तो जारी हुए है लेकिन लायसेंस फीस पर भी सरकार का रुख स्पष्ट नहीं है दूसरे राज्यों के मुक़ाबले फीस ज्यादा है, जिसे कम करना चाहिए। इस सम्बन्ध में आज 11 बजे अधिकारियों के साथ बैठक होनी थी, लेकिन उसके पहले ही दुकानों के संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co