मंत्री सिलावट और राज्य मंत्री पटेल ने लिया राहत और बचाव कार्यों का जायजा
मंत्री सिलावट और राज्य मंत्री पटेल ने लिया राहत और बचाव कार्यों का जायजाSocial Media

मंत्री सिलावट और राज्य मंत्री पटेल ने लिया राहत और बचाव कार्यों का जायजा

भोपाल, मध्य प्रदेश : दुर्घटना की उच्च-स्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं। दुर्घटना पीड़ितों को हरसंभव सहायता दी जाएगी। दु:ख की इस घड़ी में सरकार और प्रशासन पीड़ितों के साथ है।

भोपाल, मध्य प्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट और ग्रामीण विकास राज्य मंत्री राम खेलावन पटेल ने मंगलवार को सीधी जिले के बस दुर्घटना स्थल पर पहुंचकर राहत एवं बचाव कार्यों का जायजा लिया। मंत्रीद्वय ने दुर्घटना में मृत व्यक्तियों के परिजनों से मुलाकात कर शोक व्यक्त किया और उन्हें सांत्वना दी। जल संसाधन मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि घटना बहुत ही दु:खद तथा दुर्भाग्यपूर्ण है। दुर्घटना की उच्च-स्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं। दुर्घटना पीड़ितों को हरसंभव सहायता दी जाएगी। दु:ख की इस घड़ी में सरकार और प्रशासन पीड़ितों के साथ है। दुर्घटना में मृत व्यक्तियों के अंतिम संस्कार के लिए जिला प्रशासन ने 10-10 हजार रुपए की सहायता राशि मृतकों के परिजनों को नगद दी।

अधिकारियों ने की राहत और बचाव कार्य की निगरानी :

बस दुर्घटना की सूचना मिलते ही रीवा संभाग के कमिश्नर राजेश कुमार जैन, आईजी उमेश जोगा तथा डीआईजी अनिल सिंह कुशवाह तत्काल दुर्घटना घटना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने राहत तथा बचाव कार्य की सतत निगरानी की। पुलिस, होमगार्ड तथा एनडीआरएफ की टीमों ने राहत एवं बचाव कार्य किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान के निर्देश पर बाणसागर नहर का पानी तत्काल रोका गया। क्रेन की मदद से दुर्घटनाग्रस्त बस को बाहर निकाला गया। राहत और बचाव दल ने दुर्घटना में मृत 45 व्यक्तियों के शव बरामद किए। दुर्घटना स्थल पर सांसद सीधी श्रीमती रीति पाठक, विधायक चुरहट शरदेंदु तिवारी एवं विधायक सिहावल तथा पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल ने राहत तथा बचाव कार्य की निगरानी की। मौके पर चिकित्सकों का दल भी निरंतर कार्यरत रहा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co