मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र प्रारंभ
मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र प्रारंभSocial Media

मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र प्रारंभ- सत्र के पहले दिन आज सदन में दिवंगतों को दी श्रद्धांजलि

भोपाल, मध्यप्रदेश : मध्यप्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र के पहले दिन आज माननीय विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम की अध्यक्षता में हुई कार्यमंत्रणा समिति की बैठक।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी की 15वीं विधानसभा का मानसून सत्र आज से प्रारंभ हो गया है, जो पांच दिनों तक चलेगा। विधानसभा के मानसून सत्र के पहले दिन माननीय विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह सहित अन्य विधायक साथियों के साथ स्वागत किया गया।

नरोत्तम मिश्रा ने किया ट्वीट :

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर बताया- विधानसभा के मानसून सत्र के पहले दिन आज माननीय विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम की अध्यक्षता में हुई कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में शामिल हुआ।

विस में दिवंगतों को दी गई श्रद्धांजलि :

बता दें, सत्र के पहले दिन आज सदन में दिवंगत पूर्व सदस्यों और गणमान्य नागरिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। इसके पहले अध्यक्ष गिरीश गौतम ने विधानसभा में विपक्ष के नेता डॉ. गोविंद सिंह को विधिवत मान्यता देने की औपचारिकता पूर्ण की। डॉ. गोविंद सिंह के नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद यह पहला सत्र है।

सदन की बैठक प्रारंभ होने के पहले अध्यक्ष गौतम की अध्यक्षता में सदन का कामकाज निर्धारित करने में भूमिका निभाने वाली कार्यमंत्रणा समिति की बैठक हुयी, जिसमें मुख्यमंत्री शिवराज, नेता प्रतिपक्ष डॉ गोविंद सिंह, संसदीय कार्य मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह, पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा और डॉ विजयलक्ष्मी साधौ और अन्य सदस्य मौजूद थे। समिति की बैठक में विधानसभा के प्रमुख सचिव ए पी सिंह भी उपस्थित थे। शनिवार यानी 17 सितंबर तक प्रस्तावित इस सत्र के दौरान पांच बैठकें प्रस्तावित हैं। मानसून सत्र की अधिसूचना जारी होने के बाद से अब तक विधानसभा सचिवालय को 765 तारांकित प्रश्न और 751 अतारांकित प्रश्न, कुल 1516 प्रश्नों की सूचना प्राप्त हुई है।

वहीं ध्यानाकर्षण की 216, स्थगन प्रस्ताव की 18, अशासकीय संकल्प की 08 और शून्यकाल की 66 सूचनाएं प्राप्त हुई हैं। 07 विधेयक भी सचिवालय को प्राप्त हुए हैं। पंद्रहवीं विधानसभा का यह बारहवां सत्र होगा। इसके पहले कल देर शाम सत्तारूढ़ दल भाजपा और विपक्षी दल कांग्रेस के विधायक दल की बैठकें भी हुयीं। कांग्रेस ने जहां भ्रष्टाचार, किसानों और अन्य जनसमस्याओं से जुड़े मुद्दे उठाने की रणनीति बनायी है, तो भाजपा ने विपक्ष के हमले का जवाब देने की रणनीति पर चर्चा की।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co