टीकमगढ़ : तीन मासूमों के साथ कुएं में कूदी मां, चारों की मौत
मातम में डूबा गांव खरों
राज एक्सप्रेस, संवाददाता

टीकमगढ़ : तीन मासूमों के साथ कुएं में कूदी मां, चारों की मौत

टीकमगढ़, मध्यप्रदेश : खरगापुर थाना क्षेत्र के ग्राम खरौं के पास एक कुएं में महिला ने अपने तीन बच्चों के साथ आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई।

टीकमगढ़, मध्यप्रदेश। खरगापुर में सुबह सारा गांव अपने काम में रोज की तरह लगा हुआ था, अचानक ऐसी मनहूस खबर आई कि सब अपना कामकाज भूल गये। गांव में एक साथ चार शव पड़े होने की खबर ने सारे गांव को हिलाकर रख दिया। एक ही परिवार के चार शवों ने गांव में मातम फैला दिया। पुलिस प्रशासन और गांव वालों का कुएं के पास जमा होना शुरू हो गया और फिर मृतका के परिजनों की दशा देख लोगों की भी आंखें नम होने लगी।

एक साथ तीन मासूमों के शवों को देख आसमान भी रोने लगा होगा और लोगों के कलेजे फटने लगे होंगे। यह महिला अपने बच्चों के साथ रविवार को खेत के लिये निकली थी, जो मानसिक रूप से विक्षिप्त भी बताई जा रही है। पुलिस ने चारों शव बरामद कर वैधानिक कार्रवाई आरंभ कर दी। घटना के संबंध में बताया गया है कि खरगापुर थाना क्षेत्र के ग्राम खरौं के पास एक कुएं में महिला ने अपने तीन बच्चों के साथ आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई। थाना क्षेत्र में एक महिला रविवार को अपने तीन मासूम बेटों के साथ लापता हो गई थी, सोमवार सुबह महिला के पति ने खेत में बने कुएं पर झांककर देखा तो चारों के शव पानी में तैर रहे थे, जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

सोमवार सुबह खरगापुर और बल्देवगढ़ पुलिस मौके पर पहुंची, फिर चारों शवों को कुएं से बाहर निकलवाया। बच्चों की उम्र एक साल से छह साल के बीच की है। बल्देवगढ़ थाना क्षेत्र के भेलसी गांव निवासी भारती कुशवाहा 25 वर्ष ने अपने 6 साल के बेटे बृजगोपाल, 3 साल के बेटे हरिशचंद्र एवं एक वर्ष के बेटे आकाश के साथ खरौं रोड पर पडऩे वाले बड़े कुएं में कूद कर आत्महत्या कर ली। रविवार सुबह 10 बजे घर से खाना बनाकर महिला खेत पर जाने के लिए निकली थी, इसके बाद वह लौटकर नहीं आई। घटना स्थल की पूरे दिन महिला की तलाश करने के बाद पति नंदकिशोर ने इसकी सूचना बल्देवगढ़ पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस ने गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कर ली थी, वहीं सोमवार की सुबह महिला को ढूंढऩे निकले परिजनों को शव कुएं में तैरते मिले।

बताया जा रहा है कि महिला मानसिक रूप से बीमार थी, हाल ही में ग्वालियर से उपचार कराकर लौटी थी। मां के आंचल में सुरक्षित समझने वाले मासूमों को पता ही नहीं था कि आज मां उनके साथ क्या करने जा रही है। इन अबोध बच्चों के शव देख हर कोई बिलख रहा था। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। मृतका के पति नदन किशोर कुशवाहा ने बताया कि 6 माह पहले पत्नी भारती की मानसिक पीड़ित की बजह से अचानक तबियत बिगड़ने लगी तो उपचार के ग्वालियर दिखाया। तो ठीक हो गई थी, लेकिन लॉकडाउन के समय पर छोटी किराने की दुकान में दस हजार रुपए भरने पड़े थे, उसी कारण से फिर तबीयत खराब हो गई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co