MP By-Election : आज शाम छह बजे थम जाएगा चुनाव प्रचार
आज शाम छह बजे थम जाएगा चुनाव प्रचारSyed Dabeer Hussain - RE

MP By-Election : आज शाम छह बजे थम जाएगा चुनाव प्रचार

भोपाल, मध्यप्रदेश : प्रदेश के एक लोकसभा और तीन विधानसभा उपचुनाव के लिए बुधवार शाम छह बजे चुनाव प्रचार थम जाएगा। मतदान 30 अक्टूबर को सबेरे सात बजे से शुरू होगा।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश के एक लोकसभा और तीन विधानसभा उपचुनाव के लिए बुधवार शाम छह बजे चुनाव प्रचार थम जाएगा। मतदान 30 अक्टूबर को सबेरे सात बजे से शुरू होगा। मतदान के लिए स्थानीय स्तर पर प्रशासन ने तैयारियों को अंजाम देना शुरू कर दिया है। गुरुवार, 28 अक्टूबर को मतदान दल अपने-अपने मतदान केंद्रों के लिए रवाना होंगे। प्रतिष्ठापूर्ण उपचुनाव के दौरान किसी भी तरह की हिंसा को रोकने के लिए सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए जा रहे हैं। इस दौरान केंद्रीय अर्धसैनिक बल की 50 कंपनियों को तैनात किया जाएगा।

प्रदेश में खंडवा लोकसभा के साथ ही पृथ्वीपुर, जोबट और रैगांव विधानसभा में उपचुनाव हो रहे हैं। खंडवा के सांसद रहे नंदकुमार सिंह चौहान के निधन के कारण यह सीट रिक्त हुई है। इसी तरह तीनों विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित विधायकों की असामयिक मौत के कारण यहां भी उपचुनाव की नौबत आई। इस उपचुनाव से राज्य सरकार की स्थिरता पर किसी तरह का कोई प्रभाव तो नहीं पड़ेगा, लेकिन यह उपचुनाव दोनों ही दल भाजपा और कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा का विषय जरूर बन गए हैं। भाजपा के सामने खंडवा संसदीय क्षेत्र और रैगांव विधानसभा सीट को बचाए रखने की चुनौती है, वहीं पृथ्वीपुर और जोबट विधानसभा सीट को वह कांग्रेस से छीनने के लिए पूरा जोर लगा दिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अगुवाई में भाजपा के नेताओं ने चारों ही क्षेत्रों में चुनाव प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी है। इधर कांग्रेस का पूरा दारोमदार पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के कंधों पर है।

सुरक्षा के लिए केंद्रीय अर्धसैनिक बल की 50 कंपनी होंगी तैनात :

उपचुनाव की गंभीरता को देखते हुए सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए जा रहे हैं। केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की 50 कंपनियों के अलावा प्रदेश की पुलिस बल और होमगार्ड के जवान भी तैनात किए जाएंगे। केंद्रीय अर्धसैनिक बल 30 अक्टूबर की शाम तक मतदान केंद्रों में तैनात कर दिए जाएंगे। मतदान सुबह 7.00 बजे से शुरू होगा, जो कि शाम 6.00 बजे तक चलेगा। मतदान से पहले मॉकपोल होगा। इस दौरान राजनीतिक दलों के बूथ एजेंट मौजूद रहेंगे। उपचुनाव के लिए 2910 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। चुनाव कराने की जिम्मेदारी 24 हजार से अधिक कर्मचारियों की होगी। अंतिम एक घंटे में 80 वर्ष से अधिक आयु के मतदाताओं को मतदान का मौका मिलेगा। इस दौरान कोविड- 19 को देखते हुए तय नियमों का पालन किया जाएगा।

आज रैली निकालने की नहीं होगी अनुमति :

चुनाव प्रचार के अंतिम दिन बुधवार को किसी भी राजनीतिक दल को रैली निकालने की अनुमति नहीं होगी। सामान्य तौर पर राजनीतिक दल चुनाव प्रचार के अंतिम दिन शक्ति प्रदर्शन करते हैं, लेकिन चुनाव आयोग के सख्त निर्देशों के चलते इस बार ऐसा नहीं हो पाएगा। चुनाव प्रचार का समय समाप्त होने के बाद उम्मीदवार पांच सहयोगियों के साथ जरूर द्वार- द्वार चुनाव प्रचार कर सकेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co