भोपाल में कल होगी पहली गौ-कैबिनेट की बैठक, इसके बाद सीएम जाएंगे आगर

भोपाल, मध्यप्रदेश : कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए MP सरकार ने गौ कैबिनेट की बैठक में किए बदलाव, अब भोपाल स्थित मंत्रालय में रविवार को होगी पहली गौ-कैबिनेट।
भोपाल में कल होगी पहली गौ-कैबिनेट की बैठक, इसके बाद सीएम जाएंगे आगर
भोपाल में कल को होगी MP की पहली गौ-कैबिनेटSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित मंत्रालय में रविवार सुबह 11 बजे राज्य की पहली गौ कैबिनेट की बैठक होगी, बता दें कि मध्यप्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने गौ कैबिनेट का प्रस्तावित बैठक कार्यक्रम बदल दिया है, वही बैठक के बाद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आगर जाएंगे, जहां वे सालरिया स्थित गौ-अभ्यारण में सभा को संबोधित करेंगे।

राज्य सरकार ने गौ कैबिनेट की बैठक में किए बदलाव :

बताते चलें कि पहले गौ-कैबिनेट की बैठक गो-अभयारण्य में ही होना थी, लेकिन इसका स्थान परिवर्तन हो गया है। वही इससे पहले मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तिरुपति से ट्वीट कर कहा था कि कैबिनेट की पहली बैठक गौ-अभयारण्य में होगी। लेकिन अब मध्यप्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने गौ कैबिनेट का प्रस्तावित बैठक कार्यक्रम बदल दिया है।

सीएम ने पहले आगर में बैठक के लिए किया था ट्वीट-

सीएम अधिकारियों एवं की देखभाल करने वाले कर्मचारियों से बात करेंगे :

इस बैठक में शिवराज सिंह चौहान अभयारण्य का निरीक्षण करेंगे और जिला प्रशासन, अभ्यारण्य के अधिकारियों एवं गायों की देखरेख करने वाले कर्मचारियों से बात करेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर कहा- कल मंत्रालय में रोजगार के अवसर सृजित करने संबंधी बैठक ली और इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है।

शिवराज सरकार प्रदेश में गायों पर टैक्स' लगाने पर कर रही है विचार

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि प्रदेश में गौ-संवर्धन एवं गौ-संरक्षण के लिए अन्य प्रदेशों की तरह 'काऊ सेस" (गो-सेवा उपकर) लगाए जाने पर भी विचार किया जा रहा है, मध्य प्रदेश में गौवंश के संरक्षण-संवर्धन के ल‍िए 'काऊ सेस' लगाया जा सकता है। सरकार का मानना है कि इस टैक्स से गौ-पालन के लिए पर्याप्त राशि सरकार को प्राप्त हो सकेगी तथा इस पावन कार्य में सभी की भागीदारी भी होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co