सरकार ले सकती है यह बड़ा फैसला- 8वीं तक के बच्चों को दिया जाए जनरल प्रमोशन

भोपाल, मध्यप्रदेश : कोरोना की दूसरी लहर आने की व्यापक संभावनाएं बताई जा रही हैं, मध्यप्रदेश सरकार प्राइमरी और मिडिल कक्षाओं के लिए ये बड़ा फैसला ले सकती है।
सरकार ले सकती है यह बड़ा फैसला- 8वीं तक के बच्चों को दिया जाए जनरल प्रमोशन
सरकार ले सकती है यह बड़ा फैसलाSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोरोना वायरस के कहर ने अपनी पकड़ तेजी से सभी देशों में बना ली है, ऐसी स्थिति में मध्यप्रदेश के स्कूल और कॉलेज पूरी तरह बंद हैं, वहीं छात्रों के भविष्य को देखते हुए प्रदेश में ऑनलाइन पढ़ाई के माध्यम से सरकार बच्चों को पढ़ाई का प्रयास कर रही है, लेकिन परीक्षा कैसे दी जाए इसको लेकर संशय बना हुआ है, अब ऐसे में कोरोना की दूसरी लहर आने की व्यापक संभावनाएं जताई जा रही हैं। मध्यप्रदेश सरकार प्राइमरी और मिडिल कक्षाओं के लिए ये बड़ा फैसला ले सकती है।

मध्यप्रदेश सरकार ले सकती है यह निर्णय :

मिली जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश सरकार यह निर्णय ले सकती है कि आठवीं कक्षा तक के बच्चों को जनरल प्रमोशन दिया जाए। बता दें कि व्यापक समीक्षा के बाद यह बात सामने आई है कि ऐसे समय में परीक्षाएं कराना संभव नहीं है और विशेषकर बोर्ड की परीक्षा कराने के लिए तो व्यापक इंतजाम करने होंगे। सरकार ने पिछले शिक्षण सत्र में ही पांचवी और आठवीं बोर्ड की परीक्षा कराने का निर्णय लिया था लेकिन कुछ पेपर होने के बाद कोरोना लॉकडाउन लग गया था जिसके कारण शेष विषयो की परीक्षा निरस्त कर सभी बच्चो को जरनल प्रमोशन दे दिया गया था।

राज्य शिक्षा केंद्र के आयुक्त का कहना-

इस बारे में राज्य शिक्षा केंद्र के आयुक्त का कहना है कि अधिकारियों से विचार-विमर्श किया जा रहा है कि बोर्ड के साथ-साथ अन्य परीक्षाओं के बारे में भी किसी तरह का प्रारूप बनाया जाए और जल्द ही इन विषयों पर निर्णय भी लिए जायेंगे। इस बात की पूरी उम्मीद है कि- आठवीं कक्षा तक के बच्चों को जनरल प्रमोशन दे दिया जायेगा, हालांकि शिक्षा विभाग इस बारे में अभी प्रस्ताव तैयार कर रहा है और प्रस्ताव तैयार होने के बाद ही अंतिम निर्णय सरकार लेगी।

वहीं दूसरी तरफ 2 नवम्बर को खबर मिली थी कि दीपावली के बाद 9वीं से 12वीं तक की नियमित कक्षाएं शुरु हो सकती हैं, मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने सत्र शुरू करने के लिए स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री इंदर सिंह परमार को पत्र लिखा था, पत्र पर अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है। ऐसे में अब संभावना जताई जा रही है कि 15 नवंबर के बाद स्कूल खोलने को लेकर फैसला हो सकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co