महामहिम ने नर्मदा उद्गम मंदिर में प्रदेश के नागरिकों की सुख-समृद्धि के लिए की पूजा
महामहिम ने मां नर्मदा उद्गम मंदिर में की पूजाSitaram Patel

महामहिम ने नर्मदा उद्गम मंदिर में प्रदेश के नागरिकों की सुख-समृद्धि के लिए की पूजा

अनूपपुर, मध्यप्रदेश। पवित्र नगरी अमरकंटक पहुंचे मध्य प्रदेश के महामहिम राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने नर्मदा उद्गम मंदिर पहुंचकर दर्शन उपरांत सायं कालीन नर्मदा आरती में सम्मिलित हुए।

अनूपपुर, मध्यप्रदेश। पवित्र नगरी अमरकंटक पहुंचे मध्य प्रदेश के महामहिम राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने नर्मदा उद्गम मंदिर पहुंचकर दर्शन उपरांत सायं कालीन नर्मदा आरती में सम्मिलित हुए, पुरोहितों द्वारा परम्परागत मंत्रोचार, पूजा अर्चना के साथ मनोहरी नर्मदा आरती वंदन कर महामहिम राज्यपाल प्रदेश के नागरिकों के सुख समृद्धि की कामना की इस अवसर पर कमिश्नर राजीव शर्मा, एडीजीपी डी.सी. सागर, कलेक्टर सुश्री सोनिया मीना, पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल व दर्शनार्थी भी उपस्थित थे।

हर दिन अच्छा काम करने के लिए प्रेरित करें अधिकारी : राज्यपाल

प्रदेश के महामहिम राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा है कि शासन द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं का लाभ सबसे पहले जो सबसे ज्यादा गरीब है, उन्हें मिलना चाहिए। उन्होंने कहा है कि कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत सबसे ज्यादा गरीब लोगों से होनी चाहिए। राज्यपाल ने कहा है कि समाज के ऐसे लोग जो निरक्षर अनपढ़ हैं, जिन्हें योजनाओं की जानकारी नहीं है, ऐसे लोगों को योजनाओं का लाभ दिलाना सभी अधिकारी अपनी जिम्मेदारी समझे तथा कल्याणकारी योजनाओं का लाभ देना सुनिश्चित करें। प्रदेश के महामहिम राज्यपाल मंगुभाई पटेल अमरकंटक में आयोजित बैठक में अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।

आदिवासियों का जीवन सुधारना हमारे समक्ष अद्वितीय चुनौती : राज्यपाल

प्रदेश के महामहिम राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा है कि मध्यप्रदेश में बड़ी संख्या में आदिवासी समाज के लोग रहते हैं। प्रदेश की लगभग 21 प्रतिशत आबादी आदिवासियों की है। आदिवासी समाज आज भी विकास की रफ्तार में काफी पीछे है। राज्यपाल ने कहा है कि आदिवासियों के सर्वांगीण विकास में हम सबकी भागीदारी होनी चाहिए। उन्होंने कहा है कि सरकार ने सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास का नारा दिया है। हम सब मिलकर इस अवधारणा को साकार करें। राज्यपाल ने कहा है कि आदिवासी समाज के लोगों के बीच जाकर हम शासन द्वारा कल्याणकारी योजनाओं को कैसे लागू करें। उनके जीवन में कैसे खुशहाली लाएं। हमारे समक्ष यह अद्वितीय चुनौती है। हम सबको मिलकर आदिवासी समाज के जीवन में उन्नति, प्रगति और समृद्धि लाने के लिए सकारात्मक प्रयास करने होंगे। आदिवासियों के जीवन में बेहतरी लाने के लिए निरन्तर प्रयास करने होंगे। महामहिम राज्यपाल मंगुभाई पटेल आज इन्दिरा गांधी जनजातीय राष्ट्रीय विश्वविदयालय अमरकंटक में सिकल सेल की बीमारी से बचाव के लिए आयोजित परिचर्चा को संबोधित कर रहे थे।

निवारण के लिए जागरूकता आवश्यक :

राज्यपाल ने कहा कि हम सभी का लक्ष्य मानव कल्याण है। मुझे आप सभी से बड़ी अपेक्षा है कि आप आदिवासी समाज के लोगों के बीच जाकर उनकी उन्नति, प्रगति के विषय में उनका सहयोग करेंगे। उनका मार्गदर्शन कर उन्हें विश्वास के साथ विकास और प्रगति पर लाने का प्रयास करेंगे। राज्यपाल ने कहा कि विकास के साथ-साथ अच्छा स्वास्थ्य भी आवश्यक है। सिकल सेल की बीमारी जनजातीय क्षेत्रों में ज्यादा फैली है। सिकल सेल की बीमारी में स्वास्थ्य संबंधी कई विकार उत्पन्न होते हैं। सिकल सेल के बीमारी के निवारण के लिए जागरूकता आवश्यक है। सिकल सेल की बीमारी किन कारणों से होती है तथा इसके बचाव के उपाय क्या है इसकी जानकारी दूरदराज के क्षेत्रों मे रहने वाले आदिवासी समाज के लोगों तक पहुंचना चाहिए।

हितग्राहियों को हितलाभों का वितरण किया :

प्रदेश के महामहिम राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने इन्दिरा गांधी जनजातीय विश्वविद्यालय अमरकंटक में आयोजित कार्यक्रम में कल्याणी पेंशन योजना, वन अधिकार पट्टों के हितग्राहियों, संबल योजना के हितग्राहियों को हितलाभों का वितरण किया।

लोकार्पण के साथ पौधा भी किया रोपित :

प्रदेश के महामहिम राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय परिसर में बनाए गए उत्कृष्टता केन्द्र का फीता काटकर लोकार्पण किया। इस अवसर पर उन्होंने पौधरोपण भी किया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.