MP: अधीर रंजन के राष्‍ट्रपति को लेकर दिए अमर्यादित बयान के विरोध में BJP का पैदल मार्च

भोपाल, मध्यप्रदेश : भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को लेकर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के अमर्यादित बयान के खिलाफ आज भोपाल में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष धरना देकर विरोध प्रकट किया।
MP: अधीर रंजन के विरोध में BJP का पैदल मार्च
MP: अधीर रंजन के विरोध में BJP का पैदल मार्चSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी की ओर से राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपत्नी कहकर संबोधित किए जाने वाले बयान पर जमकर बवाल मचा हुआ है। इस मामले को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने कांग्रेस पर करारा हमला बोला हैं। वहीं अब इस मामले को लेकर कांग्रेस नेता अधीर रंजन के राष्‍ट्रपति को लेकर दिए अमर्यादित बयान के विरोध में मध्यप्रदेश में भाजपा ने राजभवन तक मार्च किया।

अधीर रंजन चौधरी के विरोध में BJP का मार्च

इस मुद्दे पर भाजपा कांग्रेस के खिलाफ लगातार हमलावर है और अधीर रंजन के साथ-साथ कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी से भी माफी मांगने की मांग कर रही है। इस बीच आज कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के बयान के विरोध में मध्यप्रदेश में भाजपा ने राजभवन तक मार्च किया।

वीडी शर्मा के नेतृत्व में भाजपा का पैदल मार्च

भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को लेकर कांग्रेस नेता के अमर्यादित बयान के खिलाफ आज भोपाल में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष धरना देकर विरोध प्रकट किया। इसके साथ ही धरना स्थल से राजभवन तक पैदल मार्च कर लोकसभा अध्यक्ष के नाम राज्यपाल श्री मंगूभाई पटेल को ज्ञापन सौंपकर अधीर रंजन चौधरी को लोकसभा की सदस्यता से बर्खास्त करने की मांग की। इस दौरान बड़ी संख्या में भाजपा पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि और कार्यकर्तागण साथ रहे।

महिला विरोधी बयान को लेकर फिर कांग्रेस ने अपना मूल चरित्र उजागर किया है : वीडी शर्मा

इस दौरान वीडी शर्मा ने कहा कि, महिला विरोधी बयान को लेकर एक बार फिर कांग्रेस ने अपना मूल चरित्र उजागर किया है। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा देश की राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी जनजातीय वर्ग, महिला और देश के संविधान का भी अपमान है। कांग्रेस ने कई दशकों तक भारत पर शासन किया, लेकिन उन्हें इस बात का विचार तक नहीं आया कि जनजातीय या दलित वर्ग से कोई व्यक्ति राष्ट्रपति भी बन सकता है। भाजपा ने बगैर किसी भेदभाव के अल्पसंख्यक, दलित और जनजातीय वर्ग के प्रतिनिधि को राष्ट्रपति बनाकर इन वर्गों को भी सम्मान दिया।

आगे कहा कि, द्रौपदी मुर्मू को देश की पहली जनजातीय महिला राष्ट्रपति बनते ही सारे देश ने एक सुर में अपार हर्ष जताया। जनजातीय और महिला विरोधी कांग्रेस यह पचा नहीं पाई कि इस वर्ग की महिला देश के सर्वोच्च पद तक आखिर कैसे पहुँच सकती है, इसलिए कांग्रेस नेता अपनी खीज निकाल रहे हैं। कांग्रेस नेता महिलाओं के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी के लिए देशभर में जाने जाते हैं। अधीर रंजन चौधरी द्वारा राष्ट्रपति जी का अपमान देश सहन नहीं कर सकता। लोकसभा अध्यक्ष जी से हमारी मांग है कि अधीर रंजन चौधरी की संसद सदस्यता समाप्त की जाए एवं सोनिया गांधी सारे देश से माफी मांगे।

मंत्री विश्वास सारंग ने किया ट्वीट :

मंत्री विश्वास सारंग ने ट्वीट कर बताया है कि, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष के नेतृत्व में कांग्रेस नेता अधीर रंजन के अमर्यादित बयान के खिलाफ भाजपा के पैदल मार्च में सम्मिलित हुआ एवं राज्यपाल मंगुभाई पटेल को कार्यवाही के लिए ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर हुजूर विधायक, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष, भोपाल महापौर, भाजपा प्रदेश मंत्री, भाजपा जिलाध्यक्ष एवं भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी गण सहित कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co