MP: ऑक्सीजन की कमी से दो शहरों में पांच मरीजों की हुई मौत- मचा हड़कंप
ऑक्सीजन की कमी से दो शहरों में पांच मरीजों की मौतSocial Media

MP: ऑक्सीजन की कमी से दो शहरों में पांच मरीजों की हुई मौत- मचा हड़कंप

मध्यप्रदेश। कोरोना के गंभीर संकट के बीच अब मध्यप्रदेश में ऑक्सीजन की कमी की खबरे लगातार सामने आने लगी हैं, प्रदेश के दो शहरों में ऑक्सीजन नहीं मिलने से बीते 24 घंटे में 5 मरीजों की मौत हो गई।

मध्यप्रदेश। एक तरफ जहां वैश्विक महामारी कोरोना का प्रकोप जहां थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं दूसरी तरफ दिन प्रतिदिन संक्रमण के नए मामले सामने आ रहे हैं इस बीच कई क्षेत्रों में फैला कोरोना का कहर जारी है, मध्य प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच ऑक्सीजन और रेमडेसिविर के इंजेक्शन की कमी से हालात बदतर हो रहे हैं, मिली जानकारी के मुताबिक ऑक्सीजन नहीं मिलने से बीते 24 घंटे में 5 मरीजों की मौत हो गई।

सागर में 4 और खरगोन में 1 मरीज की मौत :

बता दें कि मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बेकाबू हो गई है, कोरोना के गंभीर संकट के बीच अब मध्यप्रदेश में ऑक्सीजन की कमी की खबरे लगातार सामने आने लगी हैं, हालात ये है कि ऑक्सीजन की कमी के कारण कई जिलों में लगातार कोरोना संक्रमितों की मौत हो रही हैं। अब खबर मिली है कि प्रदेश के दो जिलों में ऑक्सीजन का सिलेंडर खत्म होते ही अस्पताल में संक्रमित मरीज तड़पते रहे और पांच मरीजों की मौत हो गई है, अस्पताल में मचा हंगामा।

मामला सागर जिले से सामने आया है जहां बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई बाधित होने से चार कोरोना संक्रमित मरीजो की मौत हो गई, बता दें कि यहां आईसीयू में चार कोविड मरीज भर्ती थे, मिली जानकारी के मुताबिक अस्पताल में 3 दिन से ऑक्सीजन नहीं थी वही मंगलवार देर रात लाइन में ऑक्सीजन प्रेशर कम होने लगा और इससे सुबह प्लांट की इमरजेंसी लाइन में आग लग गई, लाइन को सुधारने और आईसीयू में सप्लाई प्रेशर बराबर रखने के लिए सप्लाई बंद कर दी गई, लेकिन तब तक चार मरीजों की मौत हो चुकी थी।

वही प्रदेश के खरगोन जिले में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है, यहां जिला अस्पताल में मंगलवार देर रात ऑक्सीजन के सिलेंडर खत्म हो गए। सिलेंडर खत्म होते ही यहां भर्ती मरीज छटपटाते रहे। इतना ही नहीं यहां भर्ती एक मरीज के परिजनों ने यह आरोप लगाया है कि ऑक्सीजन की कमी से भर्ती एक मरीज ने दम तोड़ दिया। इस बीच विधायक रवि जोशी ने कलेक्टर को निर्देश दिए है कि जिले में किसी भी संक्रमित की आक्सीजन की कमी अथवा उपचार के अभाव में मौत न हो इसके लिए शासन-प्रशासन की जिम्मेदारी है।

कोरोना सांसों पर भारी और अस्पतालों में ऑक्सीजन बंद :

आपको बताते चले कि इन दिनों मध्यप्रदेश में कोरोना महामारी भी अपने चरम पर है, इस भयानक दौर में जब सीएम शिवराज सिंह ने भी सभी अस्पतालों को व्यवस्थाएं दुरुस्त रखने के आदेश दे रखे हैं, ऐसे में कई अस्पताल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है, प्रदेश के कई जिलों में ऑक्सीजन सिलिंडर नहीं मिलने से मरीज और उनके परिजन परेशान हो गए।

कांग्रेस ने सीएम सरकार पर साधा निशाना :

इस बीच कांग्रेस ने सीएम सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कहा कि मध्यप्रदेश के कई शहरों में ऑक्सीजन ख़त्म; जनता के लिये साँस लेने को ऑक्सीजन नहीं है और मुख्यमंत्री व्यवस्था करने की बजाय सत्याग्रह की नौटंकी और प्रचार में लगे हैं। शिवराज जी, आपके इस महापाप की कोई क्षमा नहीं है। “शवराज का मृत्यु प्रदेश”

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co