MP के मूर्तिकार ने बनाई देवी मां की मनमोहक मूर्ति, वायरल हो रहीं ये तस्वीरें
मूर्तिकार ने बनाई देवी मां की मनमोहक मूर्तिPriyanka Yadav-RE

MP के मूर्तिकार ने बनाई देवी मां की मनमोहक मूर्ति, वायरल हो रहीं ये तस्वीरें

छिंदवाड़ा, मध्यप्रदेश: छिंदवाड़ा में एक मूर्तिकार ने देवी मां की मुस्कुराती मूर्ति बनाई, देवी मां की मुस्कुराती मूर्ति की ये तस्वीरें सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रही हैं।

छिंदवाड़ा, मध्यप्रदेश। मां दुर्गा के 9 रूपों की आराधना का पर्व नवरात्रि 7 अक्‍टूबर 2021 से शुरू हुआ है। घर में घट स्‍थापना करने के अलावा जगह-जगह देवीजी की स्थापना की गई है जहां आकर्षक प्रतिमाएं स्थापित की गयी हैं। इस बीच देवी मां की एक मनमोहक मूर्ति की तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है, जिसे मध्यप्रदेश के एक मूर्तिकार ने बनाई है। तस्वीर देखने के बाद लोग उस मूर्तिकार की कलाकारी की खूब सराहना कर रहे हैं।

छिंदवाड़ा के एक मूर्तिकार ने बनाई देवी मां की खिलखिलाती मूर्ति :

नवरात्र पर्व के पावन अवसर पर मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा (Chhindwara) में एक मूर्तिकार ने देवी मां की मुस्कुराती मूर्ति बनाई है, जो कि सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। दुर्गा प्रतिमा की हंसते हुए सजीव फोटो को देख लोगों के मन में इस दुर्गा प्रतिमा को देखने की उत्सुकता हो रही है और मूर्ति के सजीव दर्शन के लिए लोग पहुंच रहे हैं।

छिंदवाड़ा के एक मूर्तिकार ने बनाई देवी मां की खिलखिलाती मूर्ति
छिंदवाड़ा के एक मूर्तिकार ने बनाई देवी मां की खिलखिलाती मूर्ति Social Media

मूर्तिकार की बनाई इस मूर्ति को देखने हर दिन पहुंच रहे हैं लोग :

मिली जानकारी के मुताबिक, जिला मुख्यालय से 22 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत सिंगोड़ी में रहने वाले मूर्तिकार पवन प्रजापति की बनाई इस मूर्ति को देखने हर दिन लोग पहुंच रहे हैं। बता दें कि, उनकी बनाई गई मूर्तियां छिंदवाड़ा ही नहीं, पड़ोसी जिले नरसिंहपुर, बैतूल, होशंगाबाद, सिवनी तक में चर्चित हैं।

मूर्तिकार का कहना-

जब मूर्तिकार पवन प्रजापति से इस मूर्ति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इस बारे में बात करते हुए बताया कि, कोरोना काल में उन्होंने लोगों के चेहरों पर उदासी देखी, लोग अपने गमों को भूल जाएं, इसलिए देवी मां के मुस्कुराते हुए चेहरे के साथ मूर्ति बनाने का विचार आया। मिली जानकारी के मुताबिक, पवन के द्वारा इस साल ही नहीं, बल्कि पिछले साल भी एक से बढ़कर एक मूर्तियां बनाई गईं थीं। काफी लोगों ने उनकी बनाई मूर्तियों को अपने घरों में लाकर स्थापित किया है।

सभी लोग इस मूर्तिकार की कलाकारी को खूब सराह रहे हैं :

वास्तव में उक्त प्रतिमा के चेहरे को देख हर व्यक्ति के मन में एक ही सवाल उठ रहा है कि, आखिर इतनी सुंदर एवं आकर्षक मनमोहक सजीव मूर्ति कैसे बनी, मूर्ति की सुंदरता इतनी आकर्षक है कि, ऐसा लगता है की मूर्ति के चेहरे को देखते ही रहें, मूर्ति के सामने से हटने की इच्छा ही नहीं होती। सभी लोग इस मूर्तिकार की कलाकारी को खूब सराह रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.