Bhopal : मध्यप्रदेश में कड़ाके की ठंड, उत्तरी हिस्सों में रहा कोहरा

मौसम विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिकों के अनुसार पिछले चौबीस घंटों के दौरान जहां सिवनी में तीव्र शीतल दिन रहा, वहीं राजधानी भोपाल के अलावा इंदौर, उज्जैन, धार और शाजापुर जिलों में शीतल दिन दर्ज किया गया।
Bhopal : मध्यप्रदेश में कड़ाके की ठंड, उत्तरी हिस्सों में रहा कोहरा
मध्यप्रदेश में कड़ाके की ठंड, उत्तरी हिस्सों में रहा कोहरासांकेतिक चित्र

भोपाल, मध्यप्रदेश। सर्द हवाओं से मध्यप्रदेश में कड़ाके की ठंड का दौर बना हुआ है। आज राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के अन्य स्थानों पर ठंड के तेवर सख्त रहे, तो वहीं प्रदेश के उत्तरी इलाकों में ठंड के साथ ही कोहरे का प्रभाव रहा, जिसके चलते आम जनजीवन प्रभावित हुआ।

मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के वैज्ञानिकों के अनुसार पिछले चौबीस घंटों के दौरान जहां सिवनी में तीव्र शीतल दिन रहा, वहीं राजधानी भोपाल के अलावा इंदौर, उज्जैन, धार और शाजापुर जिलों में शीतल दिन दर्ज किया गया। इसके साथ ही प्रदेश के अन्य स्थानों पर शीतलहर का असर रहा। वहीं प्रदेश के उत्तरी अंचल में कोहरे का प्रभाव देखा गया। इसका सर्वाधिक असर ग्वालियर चंबल संभाग में रहा।

इस बीच रीवा और शहड़ोल संभागों में कहीं कहीं हल्की बारिश हुयी, जिसके चलते वहां रात्रि का तापमान में बढोतरी हुयी। हालांकि दिन का तापमान गिरने से ठंड का असर इन क्षेत्रों में भी रहा। इस दौरान गुना और छतरपुर जिले के नौगांव में रात्रि का तापमान 6-6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो प्रदेश का सबसे कम न्यूनतम तापमान रहा।

मौसम वैज्ञानिकों को कहना है कि प्रदेश में अब ठंड का दौर कुछ दिन और बना रह सकता है। वैज्ञानिकों ने बताया कि कल एक पश्चिमी विक्षोभ आ सकता है, हालांकि इसका प्रभाव प्रदेश में कम ही रहेगा, लेकिन 18 जनवरी को जो पश्चिमी विक्षोभ आएगा, उसके असर से प्रदेश के अधिकतर स्थानों पर बादल छाने से तापमान में बढ़ोतरी के आसार जताए जा रहे हैं।

राजधानी भोपाल तथा उसके आसपास के क्षेत्र में आज सुबह से आसमान में आंशिक बादल छाए रहे तथा धूप का प्रभाव कम रहा, जिसके कारण दिन भर कड़ाके की ठंड बनी रही। विभाग के अनुसार अगले चौबीस घंटों के दौरान भी यहां ठंड से राहत की उम्मीद कम ही दिख रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.