मध्यप्रदेश मौसम अपडेट
मध्यप्रदेश मौसम अपडेट|Syed Dabeer-RE
मध्य प्रदेश

MP: अगस्त में अच्छी बारिश की उम्मीद, इन 7 जिलों में तेज वर्षा की चेतावनी

भोपाल, मध्यप्रदेश : जुलाई में थमा तेज बारिश का सिलसिला, अब अगस्त के पहले सप्ताह में अच्छी बरसात की उम्मीद है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में जहां लोग कोरोना के प्रकोप से परेशान है वही दूसरी तरफ बारिश का इंतजार करते हुए पूरा जुलाई का महीना निकल गया लेकिन अच्छी बारिश नही हुई। जुलाई के महीने में तेज बारिश में गिरावट होने से लोगों को उमस से बेहाल होना पड़ रहा है। अब अगस्त के महीने में अच्छी बारिश की उम्मीद जताई जा रही है।

मौसम विभाग ने आगामी दिनों में मानसून के सक्रिय होने के साथ कई जिलों में भारी बारिश होने की जानकारी दी थी लेकिन बारिश नहीं हुई जुलाई में बारिश का कोटा पूरा ना होने के आसार जताए हैं। इस बीच मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है और कहा है कि प्रदेश के इन सात जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

इन सात जिलों में भारी बारिश की संभावना

1.खरगोन

2.भिंड

3.धार

4.झाबुआ

5.मुरैना

6.रतलाम

7.अलिराजपुर

इन जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश की संभावना :

वहीं होशंगाबाद, इंदौर और चंबल के कई जिलों में सीधी, सिंगरौली जिलो में कहीं-कहीं बारिश की संभावना जताई है। बता दें कि कोरोना संकटकाल के बीच जुलाई में मानसून काफी रुक-रुक कर जारी रहा। इस दौरान बरसात की गतिविधियों में तेजी नहीं हो पाई और सूरज की बादलों के साथ बारिश का लुकाछिपी खेल जारी रहा ऐसे ही पूरा महीना बीत गए।

मौसम
मौसम Social Media

कम बारिश होने से किसानों की बढ़ी चिंता :

इस वर्ष जुलाई में अपेक्षाकृत बारिश नहीं हुई है। हालात यह है कि जिलों में संकट के बादल मंडरा रहे हैं। वहां अभी तक सामान्य से कम बरसात हुई है। इससे किसान काफी चिंतित होने लगे हैं। बता दें कि इस बार बरसात के सीजन में अभी तक अरब सागर या बंगाल की खाड़ी में कोई भी कम दबाव का क्षेत्र नहीं बना है। इस वजह से अभी तक लगातार बरसात की स्थिति नहीं बनी है।

अगस्त महीने में अच्छी बारिश की संभावना :

जुलाई के महीना खत्म होने की कगार पर लेकिन बारिश नहीं अब अगस्त के पहले सप्ताह में अच्छी बरसात की उम्मीद है। बताया जा रहा है किबमध्य प्रदेश में अगस्त के पहले सप्ताह में अच्छी बारिश की उम्मीद है। जुलाई माह में मध्य प्रदेश में अपेक्षाकृत बरसात नहीं हुई है। 31 जुलाई के बाद कम दबाव का क्षेत्र बनकर आगे बढ़ने की संभावना है। इस सिस्टम के प्रभाव से अगस्त के पहले सप्ताह में अच्छी बरसात हो सकती है।

आपको बताते चलें कि दें मौसम विज्ञानियों के मुताबिक24 जुलाई से झमाझम बारिश के आसार थे। मौसम के जानकारों के अनुसार कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी थी लेकिन क्योंकि प्रदेश में लगातार मौसम में बदलाव देखने को मिले थे तो भी बारिश नही हुई। सीजन में बंगाल की खाड़ी, अरब सागर में अभी तक कोई प्रभावी कम दबाव का क्षेत्र नहीं बना पा रहा था है। इस वजह से लगातार बरसात नहीं हो रही थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co