MPBSE ने दिए निर्देश
MPBSE ने दिए निर्देश|Syed Dabeer-RE
मध्य प्रदेश

MPBSE ने दिए निर्देश! 9वीं-12वीं तक के छात्रों का होगा आंतरिक मूल्यांकन

भोपाल, मध्यप्रदेश : विद्यार्थियों के लिए बड़ी खबर- सीबीएसई की तर्ज पर मध्यप्रदेश बोर्ड के 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों का आंतरिक मूल्यांकन होगा।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

भोपाल, मध्यप्रदेश। देशभर ने जहाँ कोरोना का प्रकोप तेजी से फैलता ही जा रहा है वहीं छात्रों के भविष्य पर संकट के बादल छाए हुए हैं। बता दें कि मार्च महीने से लगातार कोरोना वायरस के चलते स्कूल नहीं खुल रहे हैं और अब अगस्त का महीना भी खत्म होने वाला है लेकिन अभी तक कोरोना के कारण स्कूल बंद हैं क्योंकि बढ़ते संक्रमण के कारण हर क्षेत्र में इसका प्रभाव नजर आ रहा है। वही इसी स्थिति में अब तक स्कूल नहीं खुल पाए हैं। ऐसे में माध्यमिक शिक्षा मंडल अध्यक्ष ने जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए है कि विद्यार्थियों का होगा ऑनलाइन मूल्यांकन।

9वीं-12वीं तक के छात्रों का होगा आंतरिक मूल्यांकन :

मिली जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश में नया प्लान किया गया है। अब सीबीएसई की तर्ज पर मध्य प्रदेश बोर्ड के 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों का आंतरिक मूल्यांकन होगा। प्रदेश में कोरोना काल के कारण विद्यार्थियों का मूल्यांकन नहीं हो पा रहा है। इस वजह से माशिमं अध्यक्ष ने जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि मध्यप्रदेश बोर्ड के 9वीं-12वीं तक के छात्रों का आंतरिक मूल्यांकन होगा।

बता दें कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस संबंध में माध्यमिक शिक्षा मंडल अध्यक्ष ने कार्ययोजना के संबंध में जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। वहीं कहा है कि माध्यमिक शिक्षा मंडल एक सितंबर से ऑनलाइन शिक्षण सत्र की शुरुआत करने जा रहा है और पूरा कोर्स 12 यूनिट में बांटकर एक को 15 दिन में खत्म करना है। इसके बाद प्रत्येक यूनिट का बोर्ड द्वारा मूल्यांकन कराया जाएगा। पूरा पेपर 100 अंक का होगा। इसमें 70 अंक स्कूल द्वारा आंतरिक मूल्यांकन कर भेजे जाएंगे और 30 अंक के लिए बोर्ड परीक्षा लेगा और इसके आधार पर रिजल्ट तैयार होगा।

माशिमं अध्यक्ष राधेश्याम जुलानिया ने कहा-

स्कूल शिक्षा विभाग पहले ही बता चुका है कि इस सत्र में तिमाही व छमाही परीक्षाएं नहीं होंगी। इस कारण भी विद्यार्थियों का आंतरिक मूल्यांकन जरूरी किया गया है। 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के ऑनलाइन मूल्यांकन के लिए कार्य योजना बनाई जा रही है। इस संबंध में जल्द ही दिशा-निर्देश जारी होंगे। बता दें कि इस कोरोना संकट के बीच स्कूल बंद है लेकिन इस बीच बच्चों का भविष्य खराब न हो इसलिए ऑनलाइन कक्षा लगाकर पढ़ाई कराई जा रही है और इस बीच कई गाइडलाइन भी जारी की जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co