Raj Express
www.rajexpress.co
नहीं हो रही सरकारी कार्यालयों की सफाई
नहीं हो रही सरकारी कार्यालयों की सफाई|Ganesh Dunga
मध्य प्रदेश

कलेक्ट्रेट और अस्पताल में झाड़ियां, स्कूल के मैदान बने तालाब

बुरहानपुर, मध्यप्रदेश : जिला अस्पताल परिसर में बारिश में उगी झाड़ियो से आमजन को हो रही परेशानी, वही शासकीय कार्यालयों के सामने जमे पानी से लोगो को निकलना हो रहा दूभर

Ganesh Dunge

Ganesh Dunge

हाइलाइट्स

  • नहीं हो रही सरकारी कार्यालयों की सफाई

  • स्कूल के मैदान में जमा हुआ पानी

  • झाड़ियों से घिरे कलेक्टर और एसपी कार्यालय

  • तहसील कार्यालय के पूरे परिसर में जमा पानी

  • अस्पताल में शिशु वार्ड में घुस जाते हैं सांप

  • कार्यालयों में बदहाली के कारण लोगों को दिक्कतें

राज एक्सप्रेस। बारिश से सरकारी कार्यालयों के हाल बुरे हैं। अस्पताल, कलेक्ट्रेट, तहसील कार्यालय के परिसरों में झाड़ियां उग आई है तो स्कूलों के मैदान तालाब बन गए हैं। प्रबंधन सफाई करवा पा रहा है और ना ही पानी की निकासी। कार्यालयों में बदहाली के कारण लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे हैं। बारिश से लालबाग हायर सेकेंडरी स्कूल के मैदान का नजारा ही बदल गया है। मैदान में पूरा पानी जमा हुआ है। तालाब की तरह दिखाई दे रहा है।

बारिश की शुरूआत से विद्यार्थियों ने मैदान में कदम नहीं रखा है क्योंकि कीचड़ और पानी जमा होने से खेल नहीं सकते हैं। चहल-कदमी नहीं हो सकती है। लगातार बारिश से पानी जमा होता रहा, लेकिन स्कूल प्रबंधन ने निकासी की व्यवस्था नहीं की। कई दिनों से पानी जमा होने के कारण बदबू उठ रही है। विद्यार्थियों सहित स्टॉफ को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जमा पानी में ही जानलेवा मच्छर डेंगू का लार्वा पनपता है। बावजूद इसके सफाई को गंभीरता से नहीं लिया जा रहा है। मैदान नहीं होने के कारण विद्यार्थी खेलकूद नहीं पा रहे हैं। अन्य गतिविधियां भी नहीं हो पा रही हैं। स्कूल के मैदान में बारिश से पहले ही मुरम बिछा दिया जाना चाहिए था। इससे कीचड़ नहीं होता। पानी जमा नहीं हो पाता। हर साल स्कूल में ये परेशानी होती है।

झाड़ियों से घिरे कलेक्टर और एसपी कार्यालय

कलेक्ट्रेट कार्यालय के चारों-ओर झाड़ियां उग आई है। इसमें एसपी कार्यालय भी है। दोनों ही परिसर झाड़ियों से घिर गए हैं। कलेक्ट्रेट कार्यालय में तीन गार्डन हैं। तीनों में घास और झाड़ियां उगी हैं। इनकी लंबाई तीन से चार फीट हो गई है। इस कारण गार्डन की सुंदरता खत्म हो गई है। पेड़ों के बीच झाड़ियों के कारण सांप, बिच्छू का डर बना रहता है। ये झाड़ियों से निकलकर कार्यालय में घुस सकते हैं। बारिश शुरू होने के बाद से अब तक एक बार भी झाड़ियों, घास की सफाई नहीं करवाई गई है। इस कारण ये बड़े हो गए हैं।

झाड़ियों से घिरे कलेक्टर- SP कार्यालय
झाड़ियों से घिरे कलेक्टर- SP कार्यालय
Ganesh Dunga

पानी में से निकलते हैं अफसर, कर्मचारी और लोग

तहसील कार्यालय के पूरे परिसर में पानी जमा है। पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं है। हर दिन अफसर, कर्मचारी और आमजन पानी में से होकर निकलते हैं। परिसर में पानी जमा होने के कारण सभी को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। परिसर में जगह समतल नहीं है। गड्ढों में पानी जमा हो जाता है।

अस्पताल के शिशु वार्ड में घुस जाते हैं सांप

जिला अस्पताल में भी यही हालात हैं। गार्डन सहित खाली जगह में झाड़ियां उग आई हैं। शिशु वार्ड के बाहर ही झाड़ियाँ हैं। दीवार में खिड़कियों से सांप शिशु वार्ड में घुस जाते हैं। कई बार शिशु वार्ड में सांप घुस चुके हैं। खतरे का अंदाजा होते हुए भी अस्पताल प्रबंधन ने झाड़ियों की कटाई नहीं करवाई है। अनदेखी और लापरवाही की जा रही है। शिशु वार्ड के बाहर ही गंदगी है। यहां पर जानवर घुस जाते हैं। गंदगी के कारण बदबू उठ रही है।