खरगोन घटना मामले में सिर्फ एसपी को हटाना पर्याप्त नहीं, CBI जांच होना चाहिए: सलूजा
खरगोन घटना मामले में सिर्फ एसपी को हटाना पर्याप्त नहीं: सलूजाSyed Dabeer Hussain - RE

खरगोन घटना मामले में सिर्फ एसपी को हटाना पर्याप्त नहीं, CBI जांच होना चाहिए: सलूजा

भोपाल, मध्यप्रदेश: नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट कर कहा- खरगोन घटना में एसपी को हटाना काफी नहीं है, इस मामले की सीबीआई जांच के साथ ही पीड़ित परिवार को 1 करोड़ रुपयों का मुआवजा दिया जाना चाहिए।

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खरगोन जिले के बिस्टान थाना क्षेत्र में एक अदिवासी युवक की कथित तौर पर पुलिस प्रताड़ना के कारण मृत्यु के मामले में पुलिस अधीक्षक (एसपी) को हटाने का लिया फैसला है, सीएम के इस फैसले के बाद कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा का बयान सामने आया है, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट कर कही ये बात।

नरेंद्र सलूजा ने कहा-

मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा (Narendra Saluja) ने सीएम शिवराज पर तंज कसते हुए कहा- खरगोन जिले के बिस्टान की घटना के मामले में सिर्फ पुलिस अधीक्षक (एसपी) को हटाना पर्याप्त नहीं है, इस मामले की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से जांच होना चाहिए।

नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट के जरिए कहा - बिस्टान थाने में पिटायी के कारण आदिवासी युवक बिसन की मृत्यु हुयी है। इस मामले में एसपी को हटाना काफी नहीं है। मामले की सीबीआई जांच के साथ ही पीड़ित परिवार को एक करोड़ रुपयों का मुआवजा दिया जाना चाहिए। इसके अलावा दोषियों पर हत्या का प्रकरण भी दर्ज होना चाहिए।

शिवराज, क्या एसपी को हटाने से पाप धुल जायेंगे: कांग्रेस

एमपी कांग्रेस ने भी ट्वीट कर कहा कि- खरगोन ज़िले के एसपी हटाये गये, पुलिस पिटाई से आदिवासी की मौत का मामला। शिवराज जी, क्या पुलिस अधीक्षक (एसपी) को हटाने से पाप धुल जायेंगे बेशर्मी छोड़िये और इस्तीफ़ा दीजिये, मध्यप्रदेश को शवराज सरकार नहीं चाहिए।

पूर्व मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ की अध्यक्षता में बनी विधायकों की जांच समिति ने आदिवासी युवक की हत्या के आरोपी पुलिसकर्मियों को कड़ी सजा देने की मांग की है। डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने ट्वीट कर कहा- खरगोन में आदिवासी युवक की पुलिस पिटाई से हुई मौत के बाद सरकार द्वारा पुलिस अधीक्षक को हटाना नाकाफ़ी है, मुख्यमंत्री और गृहमंत्री नैतिक ज़िम्मेदारी लेकर इस्तीफ़ा दें और पीड़ित परिवार को 1 करोड़ की सहायता दें।

बताते चलें कि आज सीएम ने मध्य प्रदेश के खरगोन जिले में आदिवासी युवक की मौत के बाद कार्रवाई की गई है, सीएम शिवराज सिंह चौहान Lack of Supervision के कारण खरगोन पुलिस अधीक्षक को हटाने का निर्णय लिया है, सीएम के इस निर्णय के बाद से लगातार कांग्रेस के कई नेताओं के बयान सामने आ रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co