भोपाल वापस लौटे मंत्री मिश्रा, अपने बयान में ममता के शासन पर किए कई कटाक्ष
भोपाल: नरोत्तम मिश्रा का बयानSyed Dabeer-RE

भोपाल वापस लौटे मंत्री मिश्रा, अपने बयान में ममता के शासन पर किए कई कटाक्ष

भोपाल, मध्य प्रदेश : पश्चिम बंगाल से नरोत्तम मिश्रा भोपाल लौट आये है, इस बीच हमेशा अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले नरोत्तम मिश्रा ने फिर कई मुद्दों पर दिया बयान।

भोपाल, मध्य प्रदेश। प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा पिछले 4 दिनों से बंगाल के दौरे पर थे, आज यानि शुक्रवार को नरोत्तम मिश्रा भोपाल लौट आये है, इस बीच हमेशा अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने फिर कई मुद्दों पर दिया बयान, बता दें कल पश्चिम बंगाल के डायमंड हार्बर में जेपी नड्डा के काफिले पर हमला और जेपी नड्डा के बंगाल आगमन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने डायमंड हार्बर से गुजर रहे उनके काफिले को रोकने की कोशिश की। इस हमले पर मिश्रा ने ममता बनर्जी के शासन को लेकर कई कटाक्ष किये।

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बयान देते हुए कहा

प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा- प. बंगाल 'निर्ममता' दीदी के माफिया और गुंडाराज से त्रस्त है। बंगाल की जनता‌ उनके कुशासन को उखाड़ फेंकने का मन बना चुकी है। अब दुनिया ‌की कोई भी ताकत ममता जी की सरकार को नहीं बचा सकती है। बता दें कि प.बंगाल में जेपी नड्डा के काफिले और महासचिव के काफिले पर हमले को लेकर ममता जी ने निर्ममता वाला बयान दिया है, मिश्रा ने कहा- वे हम जैसे भारतवासियों को बाहरी और पाकिस्तान-बांग्लादेशी घुसपैठिए को‌ अपना मानती हैं। यही है उनकी 'ममता' की 'निर्मम' कहानी।

मिश्रा ने नशे का कारोबार करने वाले को दी खुली चेतावनी :

वही प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जहां प्रदेश में बढ़ रहे ड्रग माफिया के प्रसार को कम करने के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं, नरोत्तम मिश्रा ने नशे का कारोबार करने वाले असामाजिक तत्वों को खुली चेतावनी है कि वे या तो प्रदेश छोड़ दें या फिर अंजाम भुगतने के लिए तैयार हो जाएं। लव जिहाद के मामलों में नशा भी एक बड़ी वजह है। हम नशे के सौदागरों को नेस्तनाबूद करके ही रहेंगे।

बताते चलें कि आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ड्रग समेत कई मुद्दों को लेकर आपात बैठक बुलाई है, इस बैठक के दौरान नशे और ड्रग माफिया के खिलाफ कड़ी कार्यवाही के निर्देश जारी कर सकते हैं। जहां बैठक में स्पेशल टीम गठित करने, युवा वर्ग में नशे की प्रवृत्ति रोकने के लिए अभियान चलाने जैसे निर्देश भी दिए जा सकते हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा- इनके विरुद्ध ऐसी कार्रवाई हो कि प्रदेश में ये पूरी तरह से समाप्त हो जायें, लेकिन बाद में भी कोई हिम्मत न करे।

दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें खबरें- CM शिवराज ने बुलाई आपात बैठक

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co