मर्यादा भूले प्रभारी : थाने में दिखाई भाईगिरी
मर्यादा भूले प्रभारी : थाने में दिखाई भाईगिरीRaj Express

मर्यादा भूले प्रभारी : थाने में दिखाई भाईगिरी

शहडोल, मध्य प्रदेश : खनिज कारोबारियों को संरक्षण देने में खनिज विभाग के साथ ही थानों में बैठे वर्दीधारी इतने मशगूल हो गये हैं कि उन्हें न तो अपने पद की मर्यादा की फ्रिक है और न ही आम जनों की।

शहडोल, मध्य प्रदेश। बीते दिनों ही पपौध से स्थानान्तिरित होकर जैतपुर आये निरीक्षक नियुक्ति के समय ली गई शपथ भूल बैठे हैं, यही नहीं विभाग के वरिष्ठ अधिकारी जहां आमजनों व मीडिया से दूरियां कम करने में लगे हैं, वहीं प्रभारी ने थाना परिसर में ही सोमवार को मीडिया कर्मियों से भाईगिरी दिखाई, मर्यादा से उतरे प्रभारी ने अभद्रता के साथ ही कप्तान के मैनेंजमेंट तक की बात कह डाली, बहरहाल मामला मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में दर्ज होने के बाद जांच में है।

खनिज कारोबारियों को संरक्षण देने में खनिज विभाग के साथ ही थानों में बैठे वर्दीधारी इतने मशगूल हो गये हैं कि उन्हें न तो अपने पद की मर्यादा की फ्रिक है और न ही आम जनों की ही, मामला धनपुरी पुलिस अनुविभाग क्षेत्रान्तर्गत जैतपुर थाने का है, जहां बीती 9 जनवरी को परिसर में अवैध रेत से लदे ट्रैक्टर को खड़ा कराया गया था, इस मामले में थाना प्रभारी कालूराम सिलाले ने मीडिया कर्मियों से जानकारी मांगे जाने पर, न सिर्फ अभद्रता की, बल्कि उनके साथ मारपीट करते हुए, कहीं भी शिकायत करने की धमकी दे डाली।

वर्दीधारी से लांघी मर्यादा :

कालूराम सिलाले बीते दिनों की पपौध से जैतपुर थाने के लिये स्थानान्तिरित होकर यहां पहुंचे हैं, घटना के संदर्भ में पीड़ित रामानुज गुप्ता ने बताया कि 9 जनवरी को वंशिका ट्रेडर्स के ठेकेदारों के साथ खनिज निरीक्षक श्री कुलस्ते तथा थाना प्रभारी कालूराम सिलाले व अन्य पुलिसकर्मी रेत खदान की ओर निकले थे, इसी दौरान उनके द्वारा एक ट्रेक्टर जब्त की गई, लेकिन इस संदर्भ मेें खनिज या पुलिस विभाग ने तीन दिनों के दौरान क्या कार्यवाही की, इस संदर्भ में जानकारी लेने पर सेल फोन पर ही कालूराम सिलाले अपशब्दों का उपयोग करने लगे, पीड़ित ने बताया कि प्रभारी ने कहा मैं वैसे ही ट्रांसफर से परेशान हूँ, बार-बार जानकारी मांगोगे तो, तुम्हारे खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज कर दूंगा।

हाथापाई पर उतारू निरीक्षक :

सोमवार की शाम करीब 4:30 के आसपास मीडिया कर्मी रामानुज गुप्ता और पवन त्रिपाठी नित्य की तरह पुलिस कार्यवाही के संदर्भ में जानकारी एकत्र करने के लिये प्रभारी से मिले, इसी दौरान बीते तीन दिनों से खड़े ट्रैक्टर के संदर्भ में जब जानकारी चाही गई तो, वर्दीधारी आपा खो बैठे, उसके बाद थाने में जो कुछ हुआ, वह हर किसी ने देखा, अचरज तो इस बात का है कि इस दौरान मीडिया कर्मियों के द्वारा इस दौरान थाना प्रभारी के जो छायाचित्र लिये गये, उसमें वे असभ्य समाज का प्रतिनिधित्व करते हुए नजर आये, पूरे नगर व क्षेत्र का जिम्मा अपने कंधों में लिये श्री सिलाले थाने में अपनी वर्दी के सामने के पूरे बटन खुले रखे हुए नजर आये और भाईगिरी दिखाते हुए मीडिया कर्मियों के साथ हाथापाई भी की।

सीएम हेल्पलाइन में शिकायत :

मीडिया कर्मी रामानुज गुप्ता ने इस मामले की शिकायत पुलिस अधीक्षक कार्यालय देर शाम हो जाने के कारण वहां तो नहीं की, लेकिन मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में वर्दीधारी के द्वारा की गई, गाली-गलौज व मारपीट की शिकायत दर्ज कराते हुए, न्याय की गुहार लगाई। श्री गुप्ता ने बताया कि आज अन्य साथी मीडियाकर्मियों के साथ पुलिस अधीक्षक व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से इस संदर्भ में शिकायत पत्र सौंपकर थाना प्रभारी के खिलाफ प्राथमिक सूचना रिपोर्ट दर्ज करने की मांग करेंगे।

वर्दीधारी भूले शपथ :

देश भक्ति और जनसेवा की शपथ लेकर वर्दी पहनकर पुलिस महकमे में आये कालूराम सिलाले जैसे निरीक्षक शायद नौकरी के समय ली गई शपथ भूल चुके हैं, सवाल यह भी उठता है कि नगर निरीक्षक के पद पर बैठे प्रभारी यदि मामूली से मामले में इस तरह का व्यवहार मीडिया कर्मियों से खुलेआम करेंगे तो आम आदमी अपनी शिकायत लेकर उन तक कैसे पहुंचेगा, ऐसी स्थिति में पुलिस अधीक्षक और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक शहडोल के द्वारा पुलिस और जनता के बीच की दूरी को कम करने के प्रयास कैसे सफल हो पाएंगे।

इनका कहना है :

इस संदर्भ में जानकारी लेकर, जांच कराई जायेगी।

अवधेश कुमार गोस्वामी, पुलिस अधीक्षक, शहडोल

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co