Raj Express
www.rajexpress.co
अस्पताल के भीतर जा रहे लोगों की लेंगे तलाशी
अस्पताल के भीतर जा रहे लोगों की लेंगे तलाशी|Sanjay Awasthi
मध्य प्रदेश

छतरपुर: सख्त कदम! अब बिना तलाशी अस्पताल में नहीं मिलेगा प्रवेश

छतरपुर, मध्य प्रदेश : जिला अस्पताल में साफ-सुथरा और सुरक्षित बनाए रखने के लिए कलेक्टर के निर्देश पर अस्पताल प्रबंधन ने अब सख्त कदम उठाने शुरू कर दिए हैं।

Sanjay Awasthi

हाइलाइट्स :

  • जिला अस्पताल परिसर में लगभग 30 करोड़ रूपए लागत से बनी नई बिल्डिंग

  • कलेक्टर मोहित बुंदस के निर्देश! अस्पताल को साफ-सुथरा और सुरक्षित बनाए

  • नए भवन के गेट पर ही तैनात सुरक्षाकर्मी अस्पताल के भीतर जा रहे लोगों की लेंगे तलाशी

  • अस्पताल में लापरवाही बरतने वाले डॉक्टरों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही

राज एक्सप्रेस। जिला अस्पताल परिसर में लगभग 30 करोड़ रूपए लागत से बनी नई बिल्डिंग को साफ-सुथरा और सुरक्षित बनाए रखने के लिए कलेक्टर मोहित बुंदस के निर्देश पर अस्पताल प्रबंधन ने अब सख्त कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। जिला अस्पताल में अब दीवारों पर पान-तंबाकू की पीक मारने वालों को घुसने नहीं दिया जाएगा। नए भवन के गेट पर ही तैनात सुरक्षाकर्मी अस्पताल के भीतर जा रहे लोगों की तलाशी लेंगे और उन्हें गुटखा, पान, तंबाकू भीतर ले जाने से रोकेंगे।

नए अस्पताल भवन में सुरक्षाकर्मी लेंगे तलाशी

उल्लेखनीय है कि, दो दिन पहले कलेक्टर मोहित बुंदस ने जिला अस्पताल के हालातों को सुधारने के लिए लगभग 5 घंटे तक अस्पताल में गुजारे थे। उन्होंने एक-एक बिन्दु की समीक्षा कर पुरानी बिल्डिंग के वार्डों को नए भवन में स्थानांतरित करने की व्यवस्थाओं के निर्देश दिए थे। इसी तरह शनिवार को जिला पंचायत सीईओ हिमांशु चन्द्रा ने भी सुबह 10 बजे अस्पताल पहुंचकर आकस्मिक निरीक्षण किया। सीईओ के निरीक्षण में भी जिला अस्पताल में डॉक्टर और स्टाफ की लापरवाही देखने को मिली। सुबह 10 बजे तक कई मरीज पहुंच चुके थे लेकिन अनेक डॉक्टर अपने चेम्बरों से लापता थे।

नए अस्पताल भवन में सुरक्षाकर्मी लेंगे तलाशी
नए अस्पताल भवन में सुरक्षाकर्मी लेंगे तलाशी
Sanjay Awasthi

इस बात पर सीईओ ने सीएमएचओ डॉ. विजय पथौरिया और सिविल सर्जन आरएस त्रिपाठी को मौके पर बुलाकर फटकार लगाई और लापता डॉक्टरों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अस्पताल में लापरवाही बरतने वाले डॉक्टरों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। सीईओ के जाने के बाद सिविल सर्जन आरएस त्रिपाठी ने खुद साफ-सफाई का जायजा लिया और तैनात गार्डों को सख्ती बरतने के निर्देश दिए।