Bhopal : अब जनता की मांग, रसोई गैस के दाम भी घटाए सरकार
अब जनता की मांग, रसोई गैस के दाम भी घटाए सरकारसांकेतिक चित्र

Bhopal : अब जनता की मांग, रसोई गैस के दाम भी घटाए सरकार

भोपाल, मध्यप्रदेश : केन्द्र और मध्य प्रदेश की सरकारों द्वारा पेट्रोल और डीजल के दामों में राहत देने के बाद अब रसोई गैस सिलेण्डर के दामों में भी राहत देने की मांग उठने लगी है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। केन्द्र और मध्य प्रदेश की सरकारों द्वारा पेट्रोल और डीजल के दामों में राहत देने के बाद अब रसोई गैस सिलेण्डर के दामों में भी राहत देने की मांग उठने लगी है। आम लोगों और खासतौर पर महिलाओं का कहना है कि, रसोई गैस के दाम बढ़ने से हर घर पर महंगाई का सीधा असर पड़ा है, ऐसे में सबसे जरूरी है कि सरकार रसोई गैस के मामले में लोगों को राहत दे। रसाई गैस के दाम पिछले एक साल में 2 सौ रूपये से ज्यादा बढ़ चुके हैं, जिसके बाद रसोई गैस की टंकी 906 रूपये की मिल रही है।

गौरतलब है कि, केंद्र सरकार द्वारा ड्यूटी घटाने के बाद 4 नवंबर की सुबह से भोपाल समेत प्रदेशभर में नई दरों पर ही पेट्रोल-डीजल मिल रहा है। केंद्र द्वारा एक्साइज ड्यूटी कम करने से पहले भोपाल में पेट्रोल के दाम 118.83 और डीजल 107.90 रुपए प्रति लीटर था। केंद्र से राहत मिलने के बाद भोपाल में पेट्रोल के रेट 112.56 और डीजल के रेट 95.40 रुपए प्रति लीटर हो गए। वहीं अब मध्यप्रदेश सरकार द्वारा घटाई गई कीमतें 4.5 नवंबर की रात 12 बजे से लागू हो चुकी हैं। यानी शुक्रवार की रात से ही लोगों को एक लीटर पेट्रोल 106.86 रुपए और डीजल 90.95 रुपए प्रति लीटर पर मिलने लगेगा। अभी तक पेट्रोल पर प्रदेश में 33 प्रतिशत वैट लगता है। इसे घटाकर 29 प्रतिशत कर दिया गया है। वहीं, डीजल पर 30 प्रतिशत वैट से घटाकर 26 फीसदी कर दिया गया है।

सरकार को कम मिलेंगे 1948 करोड़ :

प्रदेश सरकार द्वारा टैक्स और निरुपित कर की राशि में कमी करने के बाद सरकार के राजस्व में 1948 करोड़ रुपए की कमी आएगी।

इधर अब लोगों की मांग है कि सरकार पेट्रोल और डीजल की तरह रसोई गैस में भी राहत प्रदान करे। दरअसल पिछले एक साल में पेट्रोल और डीजल के दामों के साथ ही एलपीजी के दामों में भी लगातार बढ़ोत्तरी हुई है, जिसके चलते हजारों परिवारों के किचिन का बजट गड़बड़ा गया है, उज्जवला योजना के तहत मिले रसोई गैस सिलेंडर तो हजारों महिलाओं ने रिफिल कराना बंद कर दिये हैं, अब गृहणियों की मांग है, कि सरकार रसोई गैस के दामों में राहत देकर लोगों के ऊपर से महंगाई का बोझ कम करे।

इनका कहना है :

पेट्रोल-डीजल से भी ज्यादा जरूरी रसोई गैस है, चूल्हा तो हर घर में जलता है, इस हालत में आम लोग इतना महंगा सिलेंडर कैसे भरवाएं सरकार को पहले इसके दाम कम करने चाहिये।

सुधा, गृहणी

कमर्शियल सिलेंडर 2 हजार रूपये से भी महंगा है, एेसे में होटल और रेस्टोरेंट में खाने-पीने की चीजें महंगी हो रहीं हैं, सरकार सिलेंडर पर राहत दे तो इससे आम लोगों को ज्यादा राहत मिलेगी।

योगेश, होटल संचालक

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co