NSUI के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी ने सादगी के साथ पदभार ग्रहण किया
एनएसयूआई के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी ने सादगी के साथ पदभार ग्रहण कियाSocial Media

NSUI के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी ने सादगी के साथ पदभार ग्रहण किया

एनएसयूआई के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी प्रदेश कांग्रेस कार्यलय पहुँचे कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से स्वागत किया।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की छात्र इकाई भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (NSUI) के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी ने आगर मालवा विधायक विपिन वानखेडे की उपस्थिति में पदभार ग्रहण किया। इस मौके पर एनएसयूआई के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी का स्वागत किया।

एनएसयूआई प्रदेश प्रवक्ता समर्थ समाधिया ने बताया कि, आगर मालवा विधायक विपिन वानखेडे की अनुशंसा पर एनएसयूआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मध्यप्रदेश एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष पद पर मंजुल त्रिपाठी की नियुक्ति कि जिसके बाद नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी ने भोपाल एनएसयूआई कार्यालय पहुँच कर पदभार ग्रहण किया।

समर्थ समाधिया ने बताया कि, नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व.इंदिरा जी के चित्र पर माल्यार्पण कर विधि विधान से। पूजा पाठ की एवं पदभार ग्रहण की परम्परानुसार निवृत्तमान अध्यक्ष एवं विधायक विपिन वानखेड़े जी से विधिवत रूप से प्रथमतल स्थित एन.एस.यु.आई.के कार्यालय छात्र पदाधिकारियों के साथ सादगी पूर्ण तरीके से पदभार ग्रहण किया।

अभी प्रदेश में छात्रों की महाविद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया नवरात्र में देवी उपासना के कारण लोग घर पर रहकर ही व्रत करते है इस कारण देश व प्रदेश में कोरोना की गाईड लाईन का पालन किया।

इस अवसर पर मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष, विवेक त्रिपाठी एन. एस.यु.आई.के भोपाल जिला अध्यक्ष, आशुतोष चौकसे, राहुल मण्डलोई, रवि परमार, समर्थ समाधिया, अक्षय तोमर,सोहन मेवाड़ा, आदित्य सोनी, आदर्श ठाकुर,भव्य सक्सेना, लकी चौबे,सत्यम झा,वंश कनोजिया, देवेन्द्र सोनारे,अनुराग दुवे, शैलेष पंवार,संदीप राजपुत आदि छात्र पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.