मध्यप्रदेश में कोरोना का तांडव, फिर 165 नए मामले आए सामने
कोरोना संकटSocial Media

मध्यप्रदेश में कोरोना का तांडव, फिर 165 नए मामले आए सामने

मध्यप्रदेश में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ते ही जा रहे हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 165 मामले बढ़ने के साथ ही कुल संख्या 7024 हो गयी है।

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के 165 मामले बढ़ने के साथ ही कुल संख्या 7024 हो गयी। इनमें से 3689 व्यक्ति स्वस्थ हो चुके हैं और 305 की मौत हुयी है। अब राज्य में एक्टिव केस 3030 हैं। राहत भरी खबर यह है कि इस दौरान 118 व्यक्ति स्वस्थ भी हुए हैं। राज्य के स्वास्थ्य संचालनालय की ओर से आज रात जारी किए गए बुलेटिन में पिछले 24 घंटों का ब्यौरा दिया गया है। सबसे अधिक प्रभावित इंदौर जिले में इस अवधि में 39 प्रकरण सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या 3103 हो गयी। एक मृत्यु के साथ मृतकों की संख्या 117 पहुंच गयी। इस अवधि में आठ व्यक्ति स्वस्थ हुए और अब तक 1484 व्यक्ति स्वस्थ हो चुके हैं। एक्टिव केस यानी अस्पताल में इलाजरत व्यक्तियों की संख्या 1502 है।

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 32 नए प्रकरणों के बाद संक्रमित बढ़कर 1303 हो गए। भोपाल में अभी तक 49 लोगों की मौत हुयी है और 826 व्यक्ति संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। अस्पतालों में 428 व्यक्तियों का इलाज चल रहा है। उज्जैन में 26 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं और ये मरीज बढ़कर 601 हो गए। उज्जैन में 54 लोगों की मौत हुयी है और 248 संक्रमण मुक्त हो गए हैं। अब 299 संक्रमितों का इलाज चल रहा है।

इसके अलावा बुरहानपुर, खंडवा और जबलपुर जिलों में संक्रमितों की संख्या दो सौ पार हो गयी है। खरगोन, ग्वालियर और धार में से प्रत्येक जिले में ऐसे मरीज एक सौ से अधिक हैं। राज्य में कुल 52 में से 50 जिले कोरोना संक्रमण से प्रभावित हैं। बीस जिले ऐसे हैं, जहां अभी कोरोना संक्रमितों की संख्या दहायी अंक में नहीं पहुंच पायी है। बुलेटिन में इस बात का भी जिक्र है कि वर्तमान में एक्टिव मामलों की संख्या 3030, कुल स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 3689 से कम है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co