राज्यपाल के खिलाफ नारेबाजी बेहद निदंनीय : विष्णुदत्त शर्मा
राज्यपाल के खिलाफ नारेबाजी बेहद निदंनीय : विष्णुदत्त शर्माSocial Media

राज्यपाल के खिलाफ नारेबाजी बेहद निदंनीय : विष्णुदत्त शर्मा

नेमावर कांड को लेकर कांग्रेस नेताओं द्वारा राज्यपाल के खिलाफ की गई नारेबाजी को लेकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने इसे कांग्रेस नेताओं के मानसिक दिवालियापन की निशानी बताया है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। नेमावर कांड को लेकर सोमवार को कांग्रेस नेताओं द्वारा राज्यपाल के खिलाफ की गई नारेबाजी को लेकर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने इसे कांग्रेस नेताओं के मानसिक दिवालियापन की निशानी बताया है।

श्री शर्मा ने कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने हमेशा संवैधानिक संस्थाओं का अपमान किया है। आज जिस तरह राजभवन के सामने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह, सज्जन सिंह वर्मा और अन्य नेताओं ने नौटंकी करते हुए राज्यपाल पद की गरिमा को गिराने और प्रदेश के वातावरण को बिगाडऩे की कोशिश की, वह बेहद निदंनीय है। राज्यपाल के खिलाफ नारेबाजी कर कांग्रेस नेताओं ने संवैधानिक व्यवस्थाओं पर चोट पहुंचाई है। यह घटना बेहद दुर्भाग्यजनक है। प्रदेश अध्यक्ष ने राज्यपाल के लिए मुर्दाबाद के नारे लगवाने वाले दिग्विजय सिंह, सज्जन सिंह वर्मा सहित अन्य कांग्रेस नेताओं की कड़े शब्दों में निंदा की है।

नेमावर घटना पर राजनीति कर रही कांग्रेस :

श्री शर्मा ने कहा कि नेमावर में हुई घटना बेहद गंभीर घटना है। सरकार ने उसमें संज्ञान लेकर प्रभावी कार्रवाई की है और आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। जहां तक सीबीआई जांच की बात है मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस संबंध में स्वयं संज्ञान लेकर सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेमावर घटना को लेकर सिर्फ राजनीति कर रही है।

संवैधानिक संस्थाओं का अपमान करना कांग्रेस का चरित्र :

श्री शर्मा ने कहा कि संवैधानिक संस्थाओं पर संवैधानिक पदों पर बैठे व्यक्तियों का अपमान करने का कांग्रेस का इतिहास रहा है। आज जिस तरह राज्यपाल मंगूभाई पटेल के लिए कांग्रेस नेता सज्जन सिंह वर्मा ने बेहुदा शब्दों का प्रयोग किया। वहीं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रहे दिग्विजय सिंह स्वयं खड़े होकर राज्यपाल के लिए मुर्दाबाद के नारे लगवाते रहे। कांग्रेस नेताओं का यह आचरण उनके मानसिक दिवालियापन को दर्शाता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.