Raj Express
www.rajexpress.co
शासकीय फंड से हो रहे निर्माण कार्यों का किया अवलोकन
शासकीय फंड से हो रहे निर्माण कार्यों का किया अवलोकन|Nilesh Dhariwal
मध्य प्रदेश

शासकीय फंड से हो रहे निर्माण कार्यो का किया अवलोकन

जावरा : शासकीय फंड से हो रहे निर्माण कार्यो का किया अवलोकन - नपा उपाध्यक्ष ने नगर पालिका में हुए निर्माण कार्यों की शिकायत ।

Nilesh Dhariwal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश विधानसभा स्तरीय लोक लेखा समिति के अध्यक्ष व सदस्यों ने सोमवार को जावरा के शासकीय फंड से बन रहे विभिन्न निर्माण कार्यो का अवलोकन किया, जिसमें रपट रोड़ पर बन रही पुलिया के साथ ही आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे निर्माण कार्य भी देखे। समिति पदाधिकारियों के निरीक्षण के दौरान कुछ ग्रामीण अंचलों में निर्माण कार्य गुणवत्ता पूर्वक नहीं मिलने तथा उनमें भ्रष्टाचार होने की शिकायतें भी मिली हैं। शहर में एक दो स्थानों का अवलोकन करने के बाद विधायक के निवास पर पहुंचे, फिर पूल बाजार स्थित शंकर मंदिर पर दर्शन कर वहां से पुन: लोट गए।

समिति सदस्यों ने पहले जावरा के आासपास के ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचकर वहां चल रहे निर्माण कार्यों को देखा, वहाँ से समिति सदस्य रपट रोड पर बने रहे नवीन ब्रिज के निर्माण को देखने पहुंचे। यहां से सभी पूल बाजार स्थित जागनाथ महादेव मंदिर पहुंचे, जहां दर्शन करने के बाद हाथीखाना ब्रिज से होकर विधायक डॉ. पाण्डेय के निवास पर पहुंचे और स्वल्पाहार कर जावरा से निकल गए।

 नपा उपाध्यक्ष सोनी ने सभी का स्वागत कर एक पत्र सौंपा
नपा उपाध्यक्ष सोनी ने सभी का स्वागत कर एक पत्र सौंपा
Nilesh Dhariwal

नपा उपाध्यक्ष ने सभापति से की शिकायत :

समिति सदस्यों के शंकर मंदिर पहुंचने पर नपा उपाध्यक्ष पवन सोनी ने सभी का स्वागत कर एक पत्र सौंपा। जिसमें बताया कि शहर में हुए निर्माण कार्य एवं वित्तीय अनियमित्ताओं की जांच एवं ऑडिट आपत्ति के अनुसार वसूली की कार्यवाही नही करने की शिकायत की, सोनी ने बताया कि नपा द्वारा शहर में सीमेंट कांक्रीट रोड निर्माण कार्यों में मापदंड अनुसार थिकनेस स्टीमेट अनुसार नहीं की एवं निर्माण में घटिया सामग्री का उपयोग किया गया। नाली निर्माण में निर्धारित प्राक्कलन अनुसार लोहे के सरिये का उपयोग नहीं किया गया, जिस कारण परिषद कार्यकाल की लगभग सभी सीमेंट कांक्रीट रोड-नालियां जर्जर हो चुकी हैं। भुगतान के पूर्व कोर कटिंग की जाकर जांच कराने का प्रावधान है, ठेकेदार द्वारा अधिकारियों से सांठ-गांठ कर अपने बताए स्थान पर कोर कटिंग कराई तथा बताए गए इंजीनियरिंग कॉलेज में जांच कराई जाती है। कितने ही निर्माण कार्यो की प्रायवेट एजेंसी (लेब) से बिना कोर कटिंग कराए रिर्पोट प्रस्तुत कर दी जाती है।

उक्त समस्त कार्यों की उच्च स्तरीय जांच श्री गोविंदराम सेकसरिआ इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एंड सांइस, इंदौर से कराई जाने की मांग की है। यामाहा शोरूम से फोरलेन तक दोनो ओर, गोशाला रोड पर सीमेंट कांक्रीट निर्माण कार्य एवं खिड़की दरवाजा से बोर्डिया कुंआ तक, कंचन टाकीज से मैला मैदान रोड, बस स्टेण्ड के पीछे हनुमान मंदिर के पास, भारत कालोनी से सीताराम बाग मंदिर तक, छोटा माली पुरा में सीसी रोड निर्माण कार्य के साथ ही अन्य निर्माण कार्यों की भी जांच की जाए।