ग्वालियर : अब तक की सबसे ठंडी रात, पहली बार पारा 10 डिग्री पर

6 दिन हो गए हैं दिन का पारा 25 डिग्री से ऊपर नहीं पहुंच सका है, साथ ही शनिवार को प्रदेश भर में ग्वालियर की रात सर्वाधिक ठंडी आंकी गई है और इस सीजन का सबसे कम न्यूनतम तापमान दर्ज हुआ है।
ग्वालियर : अब तक की सबसे ठंडी रात, पहली बार पारा 10 डिग्री पर
अब तक की सबसे ठंडी रात, पहली बार पारा 10 डिग्री परSocial Media

हाइलाइट्स :

  • लगातार 6 दिन से दिन का पारा 25 डिग्री से नीचे अटका

तापमान

  • अधिकतम- 24.7 डि.से.

  • न्यूनतम- 10.5 डि.से.

आर्द्रता

  • सुबह- 93 फीसदी

  • शाम- 49 फीसदी

हवा की रफ्तार- 4 किलोमीटर प्रतिघंटा

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। बेमौसम की बारिश के बाद से ग्वालियर अंचल का मौसम इस समय कूल कूल चल रहा है। लगातार 6 दिन हो गए हैं दिन का पारा 25 डिग्री से ऊपर नहीं पहुंच सका है, साथ ही शनिवार को प्रदेश भर में ग्वालियर की रात सर्वाधिक ठंडी आंकी गई है और इस सीजन का सबसे कम न्यूनतम तापमान दर्ज हुआ है। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक फिलहाल अभी राहत की भी कोई संकेत नहीं है। उधर पश्चिमी विक्षोभ का असर होने से आगामी 2 दिन आसमान पर बादल देखे जा सकते हैं। शनिवार को हवा की रफ्तार 4 किलोमीटर प्रतिघंटा होने से भी सर्दी अधिक महसूस हुई।

स्थानीय मौसम कार्यालय के मुताबिक 7 दिन पहले 15 नवंबर को दीपावली के पड़वा के दिन ग्वालियर सहित अंचल में झमाझम बारिश होने से मौसम में बदलाव आया है। तभी से दिन का तापमान सामान्य से कम तो दर्ज हो ही रहा है साथ ही लगातार 6 दिन से दिन का पारा 25 डिग्री से ऊपर नहीं पहुंच सका है। आलम यह है कि दिन का तापमान रात के तापमान की तरह 22 और 25 डिग्री के बीच में अटक कर रह गया है। उधर रात के न्यूनतम तापमान में गिरावट जारी है।

2 फीसदी नीचे आया रात का पारा :

बीते दिन की तुलना में शनिवार को न्यूनतम तापमान 2 फीसदी और नीचे आ गया है। शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 12.4 डिग्री सेल्सियस पर दर्ज हुआ था, जबकि शनिवार को 2 फीसदी घटकर 10.5 डिग्री सेल्सियस पर आकर ठहर गया। यह सामान्य से 1.3 डिग्री सेल्सियस कम है। यह सीजन का सबसे कम न्यूनतम तापमान है क्योंकि इससे पहले 4 नवंबर को इस सीजन का सबसे कम न्यूनतम तापमान 10.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ था और यह सामान्य से 3.1डिग्री सेल्सियस माइनस में था। यदि बीते वर्ष 2019 पर नजर डालें तो 21 नवंबर को न्यूनतम तापमान 11.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ था, हालांकि तब बारिश हुई थी।

सर्द हवाओं से ठिठुरन का अहसास :

शनिवार को आसमान पर कोहरे की चादर ने सूर्य की तपिश को गायब कर दिया है। परिणाम स्वरूप सूरज ढलने से पहले हवाएं सिहरन और बढ़ा रही हैं, शुक्रवार को जहां हवाएं शांत थी वहीं शनिवार को 4 किलोमीटर की रफ्तार से उत्तर-पश्चिमी हवाओं ने दिन के पारे को और नीचे पटक दिया। उल्लेखनीय की बीते दिन शुक्रवार को दिन का पारा 24.9 सेल्सियस दर्ज हुआ था जबकि शनिवार को 0.2 अंक घटकर 24.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ यह सामान्य 4.3 डिग्री सेल्सियस कम था। सुबह की आद्रता 93 और शाम की 49 फीसदी रही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co