अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर CM ने कहा- आइये, बेटियों को बढ़ाएं, भारत को सशक्त बनाएं
World Girl Child Day 2021Priyanka Yadav-RE

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर CM ने कहा- आइये, बेटियों को बढ़ाएं, भारत को सशक्त बनाएं

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस हैं, अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कही ये बात...

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस हैं। हर साल 11 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। बालिका दिवस को मनाने का उद्देश्य बालिकाओं के सामने आने वाली चुनौतियों और उनके अधिकारों के संरक्षण के बारे में जागरूक करना है। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस (International Girl Child Day 2021) पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कही ये बात।

बेटियां हमारा मान, सम्मान और गौरव हैं: CM

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा- "बेटी के जैसा ना कोई दूजा है, बेटियां अनमोल हैं, इनसे ही तो संसार पूरा है" बेटियां हमारा मान, सम्मान और गौरव हैं। बेटियों की तरक्की में ही राष्ट्र की उन्नति है। बेटियां हैं तो जीवन में खुशियां हैं। आइये, उन्हें सशक्त बनाने में अपना योगदान दें।

सीएम शिवराज ने किया ट्वीट

शक्ति का अवतार बेटियां, श्रृष्टि का आधार बेटियां, इनकी मुस्कान में मंगल, शुभत्व का पर्याय बेटियां। सीएम शिवराज बोले- बेटियों की खुशहाली, प्रगति और उन्नति में ही समाज एवं राष्ट्र का कल्याण है। आइये, बेटियों को बढ़ाएं, भारत को सशक्त बनाएं।

नरोत्तम मिश्रा ने भी किया ट्वीट

एमपी के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी ट्वीट कर कहा कि 'बेटी है तो कल है' सभी देशवासियों को विश्व बालिका दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। आइए, हम सब इस मौके पर बेटियों के सम्मान और सशक्तिकरण के साथ उन्हें मानसिक, सामाजिक और आर्थिक रूप से सबल और सशक्त बनाने का संकल्प लें।

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र ने 19 दिसंबर, 2011 को इस प्रस्ताव को पारित किया और इस दिन को मनाने के लिए 11 अक्टूबर का दिन चुना। जिसके बाद पहला अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 11 अक्टूबर, 2012 को मनाया गया। तब से हर साल हर दिन मनाया जाने लगा। इस खास दिन पर परिवार, समाज और देश के लिए बालिकाओं के महत्व को दर्शाया जाता है। साथ ही यह संदेश दिया जाता है कि बालिकाओं की क्षमताओं और शक्तियों को पहचान कर उनके लिए दिल खोलकर अवसर मुहैया कराने चाहिए। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने के पीछे उद्देश्य है कि दुनियाभर की बालिकाओं के आवाज का सशक्त करना है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.