रविशंकर शुक्ल और वीपी मेनन की पुण्यतिथि पर सीएम ने किया याद, दी श्रद्धांजलि
रविशंकर शुक्ल और वीपी मेनन की पुण्यतिथि पर सीएम ने किया यादSocial Media

रविशंकर शुक्ल और वीपी मेनन की पुण्यतिथि पर सीएम ने किया याद, दी श्रद्धांजलि

भोपाल, मध्यप्रदेश। पंडित रविशंकर शुक्ल और वीपी मेनन को आज उनकी पुण्यतिथि पर याद किया जा रहा है, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने भी ट्वीट कर उन्हें सादर नमन और विनम्र श्रद्धांजलि दी।

भोपाल, मध्यप्रदेश। पंडित रविशंकर शुक्ल और वीपी मेनन को आज उनकी पुण्यतिथि पर याद किया जा रहा है। आज के दिन रविशंकर शुक्ल और वीपी मेनन का निधन हुआ था। उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर कई नेता उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट कर उन्हें सादर नमन और विनम्र श्रद्धांजलि दी।

रविशंकर शुक्ल की पुण्यतिथि :

पं. रविशंकर शुक्ल की पुण्यतिथि पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें याद किया, ट्वीट कर कहा- स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और अविभाजित मध्यप्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री पं. रविशंकर शुक्ल जी की पुण्यतिथि पर नमन करता हूं। आपने शिक्षा, स्वास्थ्य, सिंचाई तथा विभिन्न योजनाओं के माध्यम से जो विकास एवं जनकल्याण के कार्य किये हैं, ये सदैव आपकी स्मृतियों को अक्षुण्ण बनाये रखेंगे।

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रसिद्ध नेता तथा स्वतंत्रता सेनानी थे शुक्ल- रविशंकर शुक्ल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रसिद्ध नेता तथा स्वतंत्रता सेनानी थे, 1 नवम्बर, 1956 को अस्तित्व में आये नये राज्य मध्य प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री नियुक्त हुए थे। पण्डित रविशंकर शुक्ल को "नये मध्य प्रदेश के पुरोधा" के रूप में स्मरण किया जाता है।

नरोत्तम मिश्रा ने भी पंडित रविशंकर शुक्ल को दी श्रद्धांजलि :

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी ट्वीट कर कहा- स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और अविभाजित मध्यप्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री पंडित रविशंकर शुक्ल की पुण्यतिथि पर सादर नमन और विनम्र श्रद्धांजलि। उन्होंने राष्ट्रीय आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाने के साथ नए मप्र के गठन में भी अतुलनीय योगदान दिया।

वीपी मेनन की पुण्यतिथि

वीपी मेनन की पुण्यतिथि पर सीएम ने श्रद्धांजलि अर्पित की। सीएम शिवराज ने ट्वीट कर कहा- भारत में देशी रियासतों के एकीकरण में सरदार वल्लभ भाई पटेल के सहयोगी रहे महान देशभक्त वी. पी. मेनन जी की पुण्यतिथि पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि। जूनागढ़, हैदराबाद और कश्मीर रियासत के भारत में विलय की कहानी जब भी कही जाएगी, वीपी मेनन जी के योगदान का स्मरण अवश्य किया जाएगा।

एक भारतीय प्रशासनिक सेवक थे वीपी मेनन : वीपी मेनन एक भारतीय प्रशासनिक सेवक थे जो भारत के अन्तिम तीन वाइसरायों के संविधानिक सलाहकार एवं राजनीतिक सुधार आयुक्त भी थे। भारत के विभाजन के काल में तथा उसके बाद भारत के राजनीतिक एकीकरण में उनकी महती भूमिका रही। बाद में वे स्वतंत्र पार्टी के सदस्य बन गये थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co