International Tiger Day 2022
International Tiger Day 2022Social Media

International Tiger Day के अवसर पर बाघों के संरक्षण व संवर्धन का संकल्प ले: CM शिवराज

International Tiger Day 2022: अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस पर सीएम ने कहा कि बाघ मध्यप्रदेश का गौरव और शान है। इसके संरक्षण और संवर्धन में वन विभाग के साथियों और नागरिकों के सहयोग से हमने इतिहास रचा है।

International Tiger Day 2022: आज अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस है, प्रत्येक वर्ष 29 जुलाई को वैश्विक स्तर पर बाघों के संरक्षण व उनकी लुप्तप्राय हो रही प्रजाति को बचाने के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस मनाया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस के अवसर पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कही ये बात।

बता दें सन 2010 से हर साल 29 जुलाई को अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस मनाया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस का लक्ष्य बाघों के प्राकृतिक आवासों की रक्षा के लिए एक वैश्विक प्रणाली को बढ़ावा देना और बाघ संरक्षण के मुद्दों के लिए जन जागरूकता और समर्थन बढ़ाना है।

  • बाघ संरक्षण वनों के संरक्षण का प्रतीक है

  • बाघ एक अनूठा जानवर है जो किसी भी स्वास्थ्य पारिस्थितिकी तंत्र और उसकी विविधता में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता आया है।

  • यह एक खाद्य शृंखला में उच्च उपभोक्ता है जो खाद्य शृंखला में शीर्ष पर होता है और जंगली आबादी को नियंत्रण में रखता है।

सीएम शिवराज ने ट्वीट कर कही ये बात :

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा- बाघ हमारा राष्ट्रीय पशु ही नहीं, बल्कि हमारी वन्य धरोहर भी है, हमारे लिए गौरव का विषय है कि देश में सर्वाधिक बाघ मध्यप्रदेश में हैं। मध्यप्रदेश को 'टाइगर स्टेट' का दर्जा भी प्राप्त है। आइए, #InternationalTigerDay के अवसर पर बाघों के संरक्षण व संवर्धन का संकल्प ले।

बाघ मध्यप्रदेश का गौरव और शान है: CM

सीएम शिवराज ने एक वीडियो शेयर कर कहा कि बाघ मध्यप्रदेश का गौरव और शान है। इसके संरक्षण और संवर्धन में वन विभाग के साथियों और नागरिकों के सहयोग से हमने इतिहास रचा है। आइये, धरा के संतुलन के लिए बाघों के अनुकूल हम परिस्थितियां बनायें। इस ध्येय हेतु हमने अच्छे कार्य किये हैं, अब श्रेष्ठतम करें।

बाघ दिवस पर उस दूरदर्शी कदम 'प्रोजेक्ट टाइगर' को याद करने का वक्त है: पीसी शर्मा

कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने ट्वीट कर लिखा- बाघों के संरक्षण के लिए 1973 में शुरू किया गया प्रोजेक्ट टाइगर बाघों के सरंक्षण की दिशा में मील का पत्थर साबित हुआ। आज बाघ दिवस के मौके पर उस दूरदर्शी कदम 'प्रोजेक्ट टाइगर' को याद करने का वक्त है। पीसी शर्मा ने एक और ट्वीट कर लिखा- हमारी कमलनाथ जी की सरकार में मध्यप्रदेश को टाईगर स्टेट का दर्जा प्राप्त हुआ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co