महानवमीं के अवसर पर CM ने धर्मपत्नी साधना के साथ निवास पर किया कन्याभोज का आयोजन
CM निवास पर कन्याभोज का आयोजनSocial Media

महानवमीं के अवसर पर CM ने धर्मपत्नी साधना के साथ निवास पर किया कन्याभोज का आयोजन

भोपाल, मध्यप्रदेश: सीएम ने महानवमीं के मौके पर आज निवास पर कन्याओं को भोजन कराया, उन्होंने और पत्नी साधना ने कन्याओं के पांव पखारे और तिलक किया, इसके बाद भोज कराया गया।

भोपाल, मध्यप्रदेश। नवरात्र की नवमी तिथि पर आज शहर के देवी मंदिरों व शक्तिपीठों में आरती और हवन के साथ विधि विधान से नवरात्र का समापन होगा। जगह-जगह कन्या भोज व भंडारे का आयोजन भी किया गया है। वहीं, मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी महानवमीं के अवसर पर निवास पर कन्याभोज का आयोजन किया।

सीएम ने निवास पर कराया कन्या भोजन

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महानवमीं के मौके पर आज यहां निवास पर कन्याओं को भोजन कराया। मिली जानकारी के अनुसार सीएम चौहान ने महानवमीं के अवसर पर पत्नी साधना सिंह के साथ निवास पर कन्याभोज का आयोजन किया। उन्होंने और पत्नी साधना सिंह चौहान ने कन्याओं के पांव पखारे और तिलक किया, इसके बाद भोज कराया गया, जिसमें मुख्यमंत्री ने उन्हें भोजन परोसा।

सीएम शिवराज ने किया ट्वीट

एमपी के सीएम शिवराज ने ट्वीट कर कहा- भुक्तिमुक्तिकारिणी भक्तकष्टनिवारिणी। भव सागर तारिणी सिद्धिदात्री नमोअस्तुते॥ महानवमी पर कन्या भोज का आयोजन कर मां अम्बे स्वरूपा कन्याओं की पूजा-अर्चना की, बेटियों के चरण से आज निवास धन्य हो गया। बेटियों की उपस्थिति ऐसी कि मानों स्वयं माता मेरे समक्ष प्रत्यक्ष हों। शिवराज ने कहा- "महानवमी के पावन पर्व पर मां अम्बे स्वरूपा कन्याओं को अपने हाथों से भोज कराकर परम आनंद की अनुभूति हुई, असीम शांति और एक नई ऊर्जा की अनुभूति हुई। बेटियों के उत्कर्ष में ही जगत का शुभत्व है। मां की कृपा सब पर बनी रहे, यही कामना! जय मां अम्बे"

बताते चलें कि, एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रत्येक कार्यक्रम की शुरुआत कन्या पूजन के साथ होती है। उन्होंने विदिशा में आश्रम भी बनवाया और प्रतिवर्ष कन्यादान और विवाह सम्मेलन भी आयोजित करते हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बेटी बचाओ, ला़ली लक्ष्मी, लाड़ो अभियान, स्वागतम लक्ष्मी जैसे कई योजनाएं प्रारंभ की हैं। वही आज सीएम शिवराज लाड़ली लक्ष्मी उत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश की 21 हजार 550 लाड़लियों को 5 करोड़ 99 लाख रुपये की छात्रवृत्ति का ऑनलाईन अंतरण करेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.