विश्व जल दिवस पर सीएम शिवराज ने कहा- जल रूपी जीवन को बचाने का लें संकल्प
विश्व जल दिवसPriyanka Yadav-RE

विश्व जल दिवस पर सीएम शिवराज ने कहा- जल रूपी जीवन को बचाने का लें संकल्प

भोपाल, मध्यप्रदेश। हर साल 22 मार्च को विश्व जल दिवस मनाया जाता है, विश्व जल दिवस पर CM ने कहा- जल बचेगा, तो जीवन बचेगा और हमारी भावी पीढ़ियां अधिक खुशहाल व समृद्ध होंगी।

भोपाल, मध्यप्रदेश। हर साल 22 मार्च को विश्व जल दिवस मनाया जाता है, इसका उद्देश्य लोगों को जल की महत्ता समझाना और लोगों को स्वच्छ जल उपलब्ध कराना है, विश्व जल दिवस पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा- 'रहिमन पानी राखिये, बिन पानी सब सून' जल संरक्षण हमारा दायित्व ही नहीं, कर्तव्य भी है, जल की हर बूंद में जीवन है। जल बचेगा, तो जीवन बचेगा और हमारी भावी पीढ़ियां अधिक खुशहाल व समृद्ध होंगी, आइये विश्व जल दिवस पर जल रूपी जीवन को बचाने का संकल्प लें और प्राण-प्रण से प्रयास करें।

सीएम शिवराज ने किया ट्वीट-

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा- विश्व जल दिवस के अवसर पर आज केन बेतवा लिंक परियोजना का धरातल पर उतरना ऐतिहासिक होगा, पीएम मोदी के मार्गदर्शन से आज उनकी मौजूदगी में इस परियोजना के समझौता पत्र पर हस्ताक्षर कर इसे अमलीजामा पहनाया जाएगा।

नदियों को जोड़कर जल अधिशेष वाले क्षेत्र से सूखाग्रस्त इलाकों तक पानी ले जाने की पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी की दूरगामी सोच से पीढ़ियों का भविष्य संवरेगा, इस परियोजना से मध्यप्रदेश जल संसाधन के मामले में और समृद्ध होगा।

CM चौहान ने कहा

PM मोदी आज जल शक्ति अभियान की करेंगे शुरूआत :

देश के पूर्व प्रधानमंत्री के पितृपुरुष और हमारे मार्गदर्शक श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी ने राज्यों के विकास और कृषि क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन लाने के लिए नदियों को आपस में जोड़ने का जो सपना देखा था, उसे पूर्ण करने की शुरुआत आज होने जा रही है। सीएम ने कहा- अत्यंत प्रसन्नता का विषय है कि प्रधानमंत्री मोदी आज विश्व जल दिवस के शुभ अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जलशक्ति अभियान कैच द रेन का शुभारम्भ करेंगे।

केन बेतवा लिंक प्रोजेक्ट पर समझौता ज्ञापन :

सीएम शिवराज ने कहा कि पीएम की उपस्थिति में केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री और उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री व हमारे बीच नदियों को जोड़ने की राष्ट्रव्यापी योजना की पहली परियोजना केन-बेतवा सम्पर्क परियोजना के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर भी किए जाएंगे। इस ऐतिहासिक परियोजना में दाऊधन बाँध बनाकर केन और बेतवा नदी को नहर के द्वारा जोड़ा जाएगा तथा लोअर ओर परियोजना, कोठा बैराज और बीना संकुल बहुउद्देश्यीय परियोजना के माध्यम से केन नदी के पानी को बेतवा नदी में पहुँचाया जाएगा।

केन-बेतवा परियोजना से प्रतिवर्ष 10.62 लाख है, कृषि क्षेत्र में सिंचाई, लगभग 62 लाख लोगों को पेयजल आपूर्ति और 103 मेगावाट जलविद्युत का उत्पादन होगा, मैं प्रधानमंत्री और केंद्रीय जलशक्ति मंत्री को इस अवसर पर सादर धन्यवाद देता हूँ।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co