One Plant A Day : आज स्मार्ट उद्यान में सीएम शिवराज ने लगाए नीम-पीपल के पौधे
सीएम शिवराज ने लगाए नीम-पीपल के पौधेSocial Media

One Plant A Day : आज स्मार्ट उद्यान में सीएम शिवराज ने लगाए नीम-पीपल के पौधे

भोपाल, मध्यप्रदेश। पौधारोपण की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए आज मुख्यमंत्री ने श्यामला हिल्स स्थित स्मार्ट उद्यान में पीपल और नीम के पौधे लगाए।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 'One Plant A Day' के संकल्प के तहत प्रतिदिन पौधारोपण कर रहें हैं, पौधारोपण की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए आज मुख्यमंत्री ने श्यामला हिल्स स्थित स्मार्ट उद्यान में पीपल और नीम के पौधे लगाए।

मिली जानकारी के मुताबिक आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हैवन्स लाइफ रहवासी रख-रखाव सहकारी संस्था भोपाल के पदाधिकारियों और पंचतत्व फाउंडेशन की संस्थापक वाटर वूमेन क्षिप्रा पाठक ने ये पौधे लगाए। आज पीपल और नीम के पौधे लगाए गए ।पीपल एक छायादार वृक्ष है, यह पर्यावरण शुद्ध करता है। इसका धार्मिक और आयुर्वेदिक महत्व है। नीम का पेड़ बहुत उपयोगी है। एंटीबायोटिक तत्वों से भरपूर नीम को सर्वोच्च औषधि के रूप में जाना जाता है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ आज पौधरोपण करने वाली हैवंस संस्था ने तीस एकड़ क्षेत्र में स्वच्छता और कचरा निष्पादन का कार्य किया हैं। संस्था ने सूखे कचरे के लिए डस्टविन और 12 पार्क में फूल और फलदार पौधे भी लगाए गए हैं। पॉलीथीन के उपयोग को रोकने के लिए संस्था नागरिकों को जागरूक करती है।

इस मौके पर सीएम शिवराज ने बताया गया कि, नर्मदा परिक्रमा और पर्यावरण संरक्षण के लिए एक करोड़ पौधे लगाने का संकल्प लेने वाली क्षिप्रा अब तक साढ़े तीन हजार किलोमीटर की पद यात्रा कर चुकी हैं। वे जन-जागरुकता के लिए भी प्रयासरत हैं। क्षिप्रा मैकल पर्वत की परिक्रमा भी कर चुकी हैं। उन्हें जल को जीवन समर्पित करने के लिए ‘वॉटर वुमन’ कहा जाता है। इनके फाउंडेशन ने कोरोना काल में तीन लाख पौधे लगाए।

अब तब भोपाल में सीएम लगा चुके हैं कई पौधे :

जानकारी के लिए बता दें कि, अब तब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल में कई पौधे लगा चुके हैं। मध्यप्रदेश के CM शिवराज द्वारा अभी तक आम, पारिजात, अशोक, गुल बकावली, शीशम, करंज जैसे कई पौधे लगा चुके हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.