पचमढ़ी का पारा -0.5 पर पहुंचा, प्रशासन हुआ अलर्ट
पचमढ़ी का पारा 0.5 पर पहुंचा, प्रशासन हुआ अलर्टPrfulla Tiwari

पचमढ़ी का पारा -0.5 पर पहुंचा, प्रशासन हुआ अलर्ट

होशंगाबाद, मध्यप्रदेश : हिल स्टेशन पचमढ़ी का पारा 0 से नीचे चला गया है। इंसान तो इंसान बेजुबान भी शीतलहर की चपेट में। मौसम विभाग के अनुसार फिल्हाल ठंड से राहत नहीं मिलेगी।

होशंगाबाद, मध्यप्रदेश। उत्तर भारत के पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी का असर जिले पर भी देखने को मिल रहा है। हिल स्टेशन पचमढ़ी का पारा 0 से नीचे चला गया है। जिसकी वजह से वहां की घांस पर बर्फ जम गई है। वहीं पिपरिया रेलवे स्टेशन पर हुड़दंग मचाने वाले बंदर भी ठंड से राहत पाने झुंड बनाकर ठंड से बचने का प्रयास करते देखे गये। मौसम विभाग के अनुसार फिल्हाल ठंड से राहत नहीं मिलेगी। दो से तीन दिन ओर तेज ठंड रहेगी। इस दौरान पारे के और गिरने की संभावना है। प्रदेश का सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थल पचमढ़ी सोमवार को शीतलहर की चपेट में रहा। सुबह हिल स्टेशन के मैदानी इलाकों में ओस की बूंदे बर्फ की परत में बदल गई। 20 दिसम्बर सुबह न्यूनतम पारा 2 डिग्री सेल्सियस से खिसक कर 0.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। शीत लहर के चलते सूर्य नमस्कार पार्क मैदान, पचमढ़ी झील, राजभवन मैदान, हवाई पट्टी के खुले मैदानों पर ओस की बूंदे घास पर बर्फ की चादर की तरह नजर आई। स्थानीय युवा मोहम्मद हुसैन, भारत अग्रवाल, गाइड असरार आशु, सलमान के मुताबिक अल सुबह पचमढ़ी के मैदानी इलाकों का नजारा कश्मीर और शिमला की तरह नजर आया। रात से ही तापमान में गिरावट जारी रही। जिसके चलते सुबह वाहनों के ऊपर ओस की बूंदे बर्फ की लेयर में तब्दील हो गई।

गौरतलब हो कि पचमढ़ी समुद्र तट से 10 67 मीटर की ऊंचाई पर बसा है। इसकी आगोश में प्रदेश की सबसे ऊंची धूपगढ़ चोटी जो 1367 मीटर पर है। इस पॉइंट से पर्यटक सनसेट सनराइज का लुत्फ़ उठाते हैं। वर्तमान में पचमढ़ी नैसर्गिक सुंदरता को निहारने देश भर से पर्यटक होटलों में मौजूद हैं। पर्यटकों के अनुसार पचमढ़ी में सोमवार की सुबह अद्भुत रही शीत लहर के बावजूद पचमढ़ी के नैसर्गिक सुंदरता को अपने कैमरों में कैद किया। मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार पचमढ़ी में रविवार रात का पारा -0.5 डिग्री दर्ज हुआ और जिला मुख्यालय पर 7 डिग्री सेल्सियस पारा दर्ज किया गया। पारे गिरने की वजह से पचमढ़ी के मैदानी इलाकों में बर्फ की परत जमी नजर आई है।

कंपकंपाने वाली ठंड दो दिन ओर :

मौसम वैज्ञानिक वीके सिंह ने बताया कि कंपकंपाने वाली ठंड का सितम अभी दो दिन तक और जारी रह सकता है। उन्होंने की 22 दिसंबर से पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से पारा में बढ़ोतरी की उम्मीद जतायी जा रही है। वहीं, उत्तर प्रदेश की सीमा से लगे क्षेत्रों में कोहरे का भी प्रभाव रह सकता है। राजधानी भोपाल तथा उसके आसपास के क्षेत्रों में ठिठुरन बनी रही। पिछले दो दिनों से पड़ रही इस कड़ाके की ठंड से आम जनजीवन प्रभावित हुआ है।

इंसान तो इंसान बेजुबान भी शीतलहर की चपेट में :

इंसान तो इंसान बेजुबान भी शीतलहर की चपेट में है। पिपरिया रेलवे स्टेशन पर हर समय धमाचौकड़ी करने वाले बंदर मामा अपने परिवार सहित कड़ाके की ठंड से बचने एक दूसरे से चिपके नजर आए। रविवार को हिल स्टेशन पचमढ़ी की सुबह करीब 2 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहा अधिकतम 19.5 दर्ज किया गया।

इंसान तो इंसान बेजुबान भी शीतलहर की चपेट में
इंसान तो इंसान बेजुबान भी शीतलहर की चपेट मेंPrafulla Tiwari

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co