Raj Express
www.rajexpress.co
रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ाया पंचायत सचिव
रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ाया पंचायत सचिव|Social Media
मध्य प्रदेश

शहडोल: रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ाया पंचायत सचिव, न्यायालय ने भेजा जेल

शहडोल,मध्यप्रदेशः 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते लोकायुक्त ने रंगेहाथ दबोचा था, जिस संबंध में कार्रवाई कर न्यायालय ने अभियुक्त को भेजा जेल।

Afsar Khan

हाइलाइट्सः

  • रिश्वत लेते पकड़ाया पंचायत सचिव

  • 20 हजार की रिश्वत लेते लोकायुक्त ने पकड़ा

  • विकास कार्य और हितग्राही मूलक कार्यों के संबंध में ली थी रिश्वत

  • चार वर्ष का सश्रम कारावास व 10 हजार रुपये अर्थदंड की सजा

  • कपिल धारा योजना के तहत ली थी रिश्वत

  • लोकायुक्त की टीम ने योजनाबद्ध तरीके से पकड़ा

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में पंचायत सचिव द्वारा रिश्वत लेने का मामला सामने आया है जिसमें अभियुक्त ने ग्राम पंचायत में विकास कार्य और हितग्राही मूलक कार्य कराने के बदले 20 हजार की रिश्वत ली थी जिसे लोकायुक्त ने पकड़ा।

इस मामले पर कार्रवाई कर न्यायालय ने भ्रष्ट सचिव को चार साल की जेल की सजा सुनाई है।

यह है मामला:

ग्राम पंचायत रतहर में रहने वाले रामदास यादव ने 03 जुलाई 14 को रीवा लोकायुक्त से शिकायत दर्ज कराई थी कि रिश्वतखोर सचिव प्रवीण कुमार पांडेय कपिल धारा योजना के तहत कूप निर्माण के लिए 20 हजार रुपये की मांग कर रहा है। कूप निर्माण की फाइल सचिव के पास थी, जिसके एवज में वह पैसों की मांग कर रहा था। जिस पर लोकायुक्त की टीम ने योजनाबद्ध तरीके से भ्रष्ट सचिव को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया था।

न्यायालय ने सुनाई 4 साल की सजा
न्यायालय ने सुनाई 4 साल की सजा
Afsar khan

न्यायालय ने सुनाई 4 साल की सजाः

मीडिया सेल प्रभारी नवीन कुमार वर्मा ने बताया कि मामले की सुनवाई करते हुए प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश ने जनपद पंचायत गोहपारू अंतर्गत रतहर सचिव प्रवीण कुमार पांडेय के विरूद्ध चार वर्ष का सश्रम कारावास व 10 हजार रुपये अर्थदंड से दंडित किया है। इस पूरे मामले की सशक्त पैरवी लोक अभियोजक श्रीमती कविता कैथवास ने की है।