MP में Lumpy Virus की दहशत, रतलाम जिले में एक दर्जन से ज्यादा गायों में देखे गए इसके लक्षण

मध्यप्रदेश। कोरोना, मंकीपॉक्स के बाद अब लंपी वायरस ने कोहराम मचा दिया है, इस खतरनाक वायरस ने मप्र को भी अपनी चपेट में ले लिया है।
MP में Lumpy Virus
MP में Lumpy VirusSocial Media

मध्यप्रदेश। कोरोना और मंकीपॉक्स के बाद लंपी वायरस (Lumpy Virus) ने कोहराम मचा दिया है। लंपी वायरस मुख्य रूप से पशुओं में होने वाली एक बीमारी है, इन दिनों भारत देश में यह वायरस तेजी से अपने पैर पसार रहा है जहां राजस्थान राज्य में मचे हड़कंप के बाद अब इस वायरस ने मप्र में टेंशन बढ़ा दी है, इस खतरनाक वायरस ने मध्यप्रदेश को भी चपेट में ले लिया है।

मध्यप्रदेश में लंपी वायरस की दहशत :

एमपी के रतलाम में पशुओं में लंपी वायरस फैलने की शुरुआत हो गई है, ग्रामीण क्षेत्रों में गायों में इसके लक्षण देखने को मिल रहे है। मिली जानकारी के मुताबिक, सेमलिया और बरबोदना के आसपास के गांवों में एक दर्जन से ज्यादा गायों में इसके लक्षण मिले हैं। गायों के शरीर में छोटी-छोटी गठानें होकर घाव बन गए हैं।

पशु चिकित्सा विभाग ने जारी की एडवाइजरी :

बता दें, सेमलिया और बरबोदना सहित कुछ गांव से वायरल बीमारी का मामला संज्ञान में आने के बाद पशु चिकित्सा विभाग हाई अलर्ट पर आ गया है, पशु चिकित्सा विभाग ने एडवाइजरी जारी की है, वही लंपी वायरस के लक्षण वाले पशुओं के सैंपल लेकर जांच के लिए भोपाल भेजे जाएंगे। इधर उच्च शिक्षा विभाग के जिम्मेदारों का कहना- ''राजस्थान से मवेशियों को लाने ले जाने पर रोक लगाई जाएगी, साथ ही जिन क्षेत्रों में लंबी वायरस फैल रहा है वहां सैंपलिंग कर पशुपालकों को समझाइश दी जाएगी''

जाने क्या है लंपी वायरस:

लंपी वायरस पशुओं में होने वाली एक वायरल बीमारी है, जिसका वायरस खून चूसने वाले कीड़ों की मदद से एक पशु से दूसरे पशु तक पहुंचता है। इस बीमारी के लक्षण में पशु के शरीर पर छोटी-छोटी गठाने बन जाती हैं, जो छोटे-छोटे घावों में बदल जाती है। पशु के शरीर पर जख्म नजर आने लगते हैं, इस दौरान पशु खाना भी कम कर देता है, उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता घटने लगती है।

इस मामले को लेकर कमलनाथ का सामने आया बयान

इस मामले को लेकर मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ का बयान सामने आया है। कमलनाथ ने बयान देते हुए कहा कि, प्रदेश के कई जिलों से पशुओं में लंपी बीमारी होने के समाचार लगातार आ रहे हैं। मूक पशु अपनी पीड़ा खुद तो व्यक्त कर नहीं सकते हैं और पशुपालकों की बात सुनने के लिए सरकार के पास समय नहीं है। मैं प्रदेश सरकार से आग्रह करता हूं कि तत्काल इस विषय में आवश्यक कार्यवाही करें और प्रदेश को इस बीमारी से बचाएं।

ये भी पढ़े

MP में Lumpy Virus
गहलोत का लम्पी स्किन रोग के प्रभावी नियंत्रण में सहयोग का केन्द्र से आग्रह

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co