जिले में मिला तीसरा कोरोना पॉजिटिव
जिले में मिला तीसरा कोरोना पॉजिटिव|Anil Tiwari
मध्य प्रदेश

जिले में मिला तीसरा कोरोना पॉजिटिव, गांव को किया सील

प्रदेश के पन्ना जिले में कोरोना पॉजिटिव केस की संख्या बढ़कर हुई तीन, जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची बिलघाडी, गांव को किया सील।

Anil Tiwari

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में लगातार एक माह से प्रवासी श्रमिकों का आना जारी है। ऐसे में आशंका जताई जा रही थी कि जिले में संक्रमण के मामले बढ़ सकते हैं और बीते तीन दिनों में दो मरीज मिलने से जिले के लोग सकते में हैं। करीब डेढ़ माह तक सुरक्षित रहने के बाद पन्ना जिले मेंं अब कोरोना मरीजों की संख्या रुकने का नाम नहीं ले रही है जैसे ही प्रशासन ने बाहर से आये प्रवासियों के सैम्पल लेने प्रारंभ किये वैसे ही पॉजिटिव मरीज की संख्या बढ़ने लगी है अब कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर तीन हो गई है। फिलहाल एक मरीज स्वस्थ्य होकर अपने घर पहुंच चुका है।

बीती रात पन्ना जिले की गुनौर तहसील के ग्राम बिलघाडी में रहने वाले एक व्यक्ति के कोरोना सैम्पल की जाँच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसकी जानकारी प्रशासन को देर रात मिल गई थी वैसे ही पन्ना जिले का प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी हरकत में आ गए। पन्ना कलेक्टर कर्मवीर शर्मा, सीएमएचओ डॉ. एल.के. तिवारी सहित अन्य अधिकारी और स्वास्थ्य विभाग एवं प्रशासन की टीमें आगे की कार्रवाई के लिए बिलघाडी ग्राम के लिए रवाना हो गईं।

कोरोना पॉजिटिव पाए गए 44 वर्षीय मरीज निवासी ग्राम बिलघाडी के सम्बंध में जानकारी मिली है कि वह अपने परिवार के साथ कुछ दिन पूर्व दिल्ली से मिनी बस में सवार होकर जिले के दूसरे कोरोना पॉजिटिव मरीज ग्राम घाट सिमरिया के साथ वापस अपने गाँव लौटा था।

विदित हो कि हॉट स्पॉट इलाके देश की राजधानी दिल्ली से वापस लौटने की जानकारी कथित तौर उनके मोबाइल फोन में इंस्टॉल आरोग्य सेतु एप्प के माध्यम से मिली थी। इसे गंभीरता से लेते हुए संदेह के आधार पर 15 मई को दूसरे पॉजिटीव मरीज और उनके भाई  सहित कुल 6 लोगों के सैम्पल कोरोना जाँच हेतु लिए गए थे। शनिवार 16 मई एक का सैम्पल पॉजिटिव पाए जाने पर उसे संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर शासकीय आदिवासी छात्रावास गुनौर में रखा गया और फिर दूसरे दिन रात्रि में उसे बेहतर उपचार हेतु पन्ना जिला चिकित्सालय के कोविड वार्ड में शिफ्ट किया गया था। उसके बाद दूसरे कोरोना पॉजिटीव मरीज के सम्पर्क में आये व्यक्तियों की जांच के लिए सैम्पल भेजे गये थे जिनमें से एक की रिपोर्ट पॉजिटीव आई है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एल.के. तिवारी द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार गुनौर तहसील के ग्राम घाट सिमरिया में पूर्व में एक पॉजिटिव व्यक्ति पाया गया था। उसके प्रथम सम्पर्क में आने वाले व्यक्तियों के सेम्पल परीक्षण के लिए प्रयोगशाला सागर भेजे गए थे। उनमें 44 वर्षीय युवक निवासी बिलघाडी की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पायी गयी है। यह व्यक्ति सिविल लाईन दिल्ली से पूर्व पॉजिटिव के साथ यात्रा करके अपने ग्राम 11 मई को पहुंचा था। कलेक्टर कर्मवीर शर्मा के मार्गदर्शन में राजस्व एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा तत्परता से कार्यवाही करते हुए मौके पर पहुंचकर ग्राम को कान्टेंमेंट जोन घोषित किया गया। जिससे संक्रमण के फैलाव को पूरी तरह रोका जा सके। यहां पर अमानगंज एवं गुनौर की स्वास्थ्य टीमें भी मौके पर पहुंची। पॉजिटिव व्यक्ति की स्क्रीनिंग, कांटेक्ट हिस्ट्री, ट्रबल हिस्ट्री एवं सेम्पलिंग की कार्यवाही की गयी।

जिला आरआरटी टीम द्वारा पॉजिटिव व्यक्ति से ट्रबल हिस्ट्री एवं कांटेक्ट हिस्ट्री लिए जाने के उपरांत कांटेक्ट में आए व्यक्तियों की पहचान कर सेम्पल लेकर जांच हेतु प्रयोगशाला भेजे जा रहे हैं। जिला स्तर से पहुंची आरआरटी टीम द्वारा कोरोना पॉजिटिव मरीज को निर्धारित एम्बुलेन्स के माध्यम से जिला चिकित्सालय में स्थापित कोविड हेल्थ केयर सेंटर में भर्ती कराया गया है। सेंटर में उसका उपचार प्रारंभ कर दिया गया है। पूर्व से भर्ती मरीज वर्तमान में स्वस्थ है। कोविड हेल्थ केयर सेंटर में उपचार के साथ साथ पौष्टिक आहार एवं स्वस्थ मनोरंजन उपलब्ध कराया जा रहा है। जिससे पॉजिटिव व्यक्ति के स्वास्थ्य में अच्छा सुधार देखा गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co