पर्यावरण संरक्षण के साथ दें विकास पर ध्यान : सिसौदिया
पर्यावरण संरक्षण के साथ दें विकास पर ध्यान : सिसौदियाSocial Media

पर्यावरण संरक्षण के साथ दें विकास पर ध्यान : सिसौदिया

भोपाल, मध्यप्रदेश : मिंटो हॉल में ग्रीन-न्यू टेक्नोलॉजी विषय पर राष्ट्रीय कार्यशाला आयोजित। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़कों के निर्माण में मप्र देश में अग्रणी।

भोपाल, मध्यप्रदेश। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया ने कहा है कि पर्यावरण संरक्षण के साथ विकास पर ध्यान दिया जाना आवश्यक है। सड़कों के विकास के लिए नवाचार के रूप में प्लास्टिक वेस्ट का उपयोग किया जा रहा है। इसी तरह अन्य वेस्ट मटेरियल का उपयोग सड़कों के निर्माण में नवाचार के तौर पर किया जा सकता है। मंत्री श्री सिसौदिया सोमवार को मिंटो हॉल, भोपाल में म.प्र. ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण द्वारा आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर मनाये जा रहे आजादी का अमृत महोत्सव अंतर्गत ग्रीन-न्यू टेक्नोलॉजी विषय पर आयोजित राष्ट्रीय कार्यशाला का शुभारंभ कर रहे थे। कार्यशाला में पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री राम खेलावन पटेल एवं 20 राज्यों के अभियंतागण उपस्थित थे।

मंत्री श्री सिसौदिया ने कहा कि सड़कों के माध्यम से गांंव से गांव को जोड़ने का सपना पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी ने देखा था। मध्यप्रदेश ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण अटल जी के इस सपने को प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़कों के माध्यम से पूरा कर रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़कों के निर्माण में मध्यप्रदेश देश में अग्रणी है। उन्होंने 20 राज्यों के प्रतिभागियों से सड़कों के विकास के लिए नवाचार करने का आग्रह किया। श्री सिसौदिया ने विभाग के उत्कृष्ट कार्यों की सराहना करते हुए भविष्य में पर्यावरण संरक्षण के लिए मंथन करने की समझाइश दी।

आत्मनिर्भर भारत का सपना होगा साकार : पटेल

राज्य मंत्री राम खेलावन पटेल ने कहा कि कार्यशाला के माध्यम से विभिन्न राज्यों के प्रतिनिधियों द्वारा एक-दूसरे के कार्यों और अनुभव को साझा करने से निश्चित रूप से सड़कों के क्षेत्र में काफी विकास होगा। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्म-निर्भर भारत बनने का सपना साकार होगा।

प्रतिभागियों ने नवीन तकनीक से बनी सड़कों को देखा :

कार्यशाला में मध्यप्रदेश ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण की सीईओ श्रीमती तन्वी सुंद्रियाल एवं प्रमुख अभियंता पीके निगम ने भी अपने विचार व्यक्त किए। कार्यशाला के पश्चात विभिन्न राज्यों से आए प्रतिभागियों को नवीन तकनीक से निर्मित सड़कों का स्थल भ्रमण कराया गया।

साझा की गई तकनीकी जानकारियां :

भारत सरकार के निर्देशानुसार प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना से संबंधित विशेष गतिविधियां की जा रही हैं। कार्यशाला में एनआरआईडीए एवं सीआरआरआई के अधिकारी उपस्थित थे। नवीन एवं ग्रीन टेक्नोलॉजी पर विषय विशेषज्ञों द्वारा प्रेजेंटेशन प्रस्तुत किए गए तथा तकनीकी जानकारियां साझा की गईं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.