PC शर्मा का सियासी बयान
PC शर्मा का सियासी बयान|Syed Dabeer-RE
मध्य प्रदेश

शर्मा का सियासी बयान, गाइडलाइंस का उल्लंघन कर संक्रमित हुए कई BJP नेता

भोपाल, मध्यप्रदेश : कोरोना संकटकाल के बीच पीसी शर्मा ने प्रदेश के कई मुद्दों को लेकर दिया बयान, शर्मा का सामने आया सियासी बयान।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

भोपाल, मध्यप्रदेश। एक तरफ जहां कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ता ही जा रहा है वही दूसरी तरफ कांग्रेस के मंत्री पीसी शर्मा अपने बयानों को लेकर तेजी से चर्चा में बने हुए है। मंत्री पीसी शर्मा ने प्रदेश के कई मुद्दों को लेकर बयान दिए है। आज फिर पूर्व मंत्री पीसी शर्मा का बयान सामने आया है।

बता दें कि कोरोना संकटकाल में कांग्रेस वर्चुअल रूप से नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ लगातार बैठककर रहे हैं इस बीच बिकाऊ नहीं टिकाऊ चाहिए लिखे मास्क के जरिये कांग्रेस का मास्क कैंपेन शुरू हो गया है। बता दें कि कुछ दिन पहले पीसी शर्मा ने कहा था कि कांग्रेस मे जो बिकाऊ माल था वह चला गया अब सिर्फ टिकाऊ कार्यकर्ता बचे हैं जो कांग्रेस को उपचुनाव बाद सत्ता में वापसी कराने के लिए सक्रिय रुप से काम कर रहे हैं।

पीसी शर्मा ने कहा :

वहीं प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने बयान में कहा है कि भाजपा ने कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन किया है। कोरोना संकट में भाजपा ने गाइडलाइंस का उल्लंघन किया है इसलिए भाजपा के सभी बड़ी नेता संक्रमित हुए और प्रदेश भर में संक्रमण फैला रहे हैं।

भोपाल मास्टर प्लान को रद्द करने पर कहा -

बता दें कि पीसी शर्मा ने कहा है कि जनता की सलाह से एक्सस्पर्ट के द्वारा प्लान बनाया गया था, मास्टर प्लान बहुत अच्छा था, प्लान रद्द करने की जितनी निंदा की जाए कम है, भाजपा इतने सालों से मास्टर प्लान नहीं बना पाए, भाजपा बड़े स्तर पर हेराफेरी करना चाहती है अपने फायदे के लिए।

पीसी शर्मा ने प्रदेश के कई मुद्दों को लेकर कहा :

वहीं लक्षमण सिंह के ट्वीट पर कहा कांग्रेस की विचारधारा सेवा की रही है, कांग्रेस नेता सेवा की भावना से ही काम करते हैं। आगे बिजली का बिल चुकाने के लिए लोगों को लोन लेना पड़ रहा है, पेट्रोल डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। देशभर में बेरोजगारी चरम पर है, कांग्रेस प्रदेश के कर्मचारियों के साथ है उन्हें सभी टीए-डीए दिए जाएं। स्वास्थ्य विभाग को मिला कम बजट और रोजाना खर्च भी सबसे कम, तमाम मुद्दों में उपचुनाव पर बोले प्रदेश में किसी भी कीमत पर सितंबर में उपचुनाव हो।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co