पर्यटक स्थल साँची पर ट्रेनों के न चलने से लोगों को हो रही परेशानियां
साँची स्टेशन पर ट्रेनों के स्टॉपेज नहीं होने से पर्यटक परेशानRaj Express

पर्यटक स्थल साँची पर ट्रेनों के न चलने से लोगों को हो रही परेशानियां

साँची, मध्यप्रदेश : नगर को रेलवे ने मात्र एक ही ट्रेन दी है जिससे न तो इस से पर्यटकों को ही लाभ पहुंच पा रहा है न ही व्यापारियों ने अपडाउनर्स ही लाभ उठा पा रहे हैं।

साँची, मध्यप्रदेश। इस विश्व प्रसिद्ध नगरी में पर्यटकों का आने-जाने वालों का तांता लगा रहता है। साँची विश्वभर में प्राचीन स्थल के रूप में विख्यात है। सरकारें भी इस नगर के कायाकल्प बदलने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती। इस नगर के भ्रमण पर देश विदेश के लोग आते जाते हैं परन्तु नगर में रेलों के स्टापेज न होने से पर्यटकों के साथ लोगों को भी परेशानी उठानी पड़ती है। इस नगर की पहचान लगभग ढाई हजार साल पुरानी है, जिसमें श्रीलंका से सबसे अधिक पर्यटक आते जाते रहते हैं।

कोरोना के कारण कुछ समय के लिए इन ऐतिहासिक स्मारकों को प्रतिबंधित कर दिया गया था, लेकिन अब पुन: खोल दिया गया है जिससे विदेशी पर्यटकों की संख्या तो बढ़ नहीं सकी परन्तु देशी पर्यटकों का आना जाना शुरू हो गया । कोरोना काल में ट्रेनों को भी बंद कर दिया गया था हालांकि अब धीरे धीरे जीवन पटरी पर आने लगा है तथा नगर में छिटपुट पर्यटक भी शुरू हो चुके हैं पर ट्रेनों के स्टापेज न होने से पर्यटकों को परेशानी उठानी ही पड़ रही है। आवागमन के लिए बसें तो चल गई हैं परन्तु डीजल पेट्रोल की महंगाई के कारण किरायों में भी बढ़ोतरी हो जाने से लोगों पर आर्थिक बोझ पड़ रहा है।

रेलवे प्रशासन इस नगर में ट्रेनों के स्टापेज को लेकर गंभीर नहीं हो सका। नगर को रेलवे ने मात्र एक ही ट्रेन दी है जिससे न तो इस से पर्यटकों को ही लाभ पहुंच पा रहा है न ही व्यापारियों ने अपडाउनर्स ही लाभ उठा पा रहे हैं। यह जिले का एक मात्र प्रमुख रेलवे स्टेशन है जिससे जिलेभर के लोगों का दूर-दूर आना जाना इसी रेलवे स्टेशन से होता है। यहां स्टापेज न होने से पर्यटकों को यहां से लगभग 55 किमी दूर स्थित भोपाल से टे्रन पकडऩा पड़ता है। नगरवासियों ने इस विश्व प्रसिद्ध स्थल पर यात्री ट्रेनों की संख्या में बढ़ोतरी करने के साथ स्टापेज करने प्रशासन से मांग की है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co